Top
Action India

'मन की बात' सुनकर हजारों लोगों ने लिया 'आत्मनिर्भर' भारत बनाने का संकल्प

मन की बात सुनकर हजारों लोगों ने लिया आत्मनिर्भर भारत बनाने का संकल्प
X

बेगूसराय । एएनएन (Action News Network)

बेगूसराय के सभी बूथ पर रविवार को भारतीय जनता पार्टी के मंडल अध्यक्षों एवं कार्यकर्ताओं के साथ 'मन की बात सप्तऋषियों के साथ' सुनी गई। इस दौरान भाजपा और भाजयुमो कार्यकर्ता के अलावा हजारों अन्य लोगों ने भी प्रधानमंत्री के मन की बात सुनी। प्रधानमंत्री को सुनने के लिए लोग सब काम पूरा कर साढ़े दस बजे से ही एकजुट होने लगे थे। प्रधानमंत्री के मन की बात सुनने के बाद लोगों ने प्रधानमंत्री द्वारा दिखाए गए रास्तों पर चलने तथा आत्मनिर्भर भारत निर्माण की दिशा में आगे बढ़ने का संकल्प लिया।

इधर, बेगूसराय जिला के विभिन्न मंडलों पर मन की बात सप्तऋषियों के साथ कार्यक्रम की सफलता पर भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह ने कहा कि आज मन की बात कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिस प्रकार से आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत गरीबों के स्वास्थ्य सेवाओं के लिए निर्धारित लक्ष्यों के अनुरुप क्रियान्वयन की बात की वह निश्चित तौर पर भाजपा के कार्यकर्ताओं द्वारा चलाई जा रहे जनजागरण की कड़ी को संबल देगा। कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से निपटने में उठाए जा रहे परिवर्तनकारी कदमों पर जनता उनके साथ चलेगी।

भाजपा जिला महामंत्री कृष्णमोहन पप्पू ने कहा कि डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मी, सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी जो सेवा कर रहे हैं, प्रधानमंत्री द्वारा उसकी चर्चा समर्पण को और अधिक मजबूती प्रदान करेगी। सेवा में समर्पित ऐसे अनगिनत लोगों के प्रति प्रधानमंत्री की मजबूत आस्था देश के वर्तमान हालात को परिवर्तित करने में एक महत्वपूर्ण कदम होगा। उपाध्यक्ष कुन्दन भारती ने कहा कि कोरोना के खिलाफ मजबूती से लड़ रहे लोगों का जिक्र देश की सेवा में लगे लोगों को और अधिक सशक्तता के साथ काम करने के लिए प्रेरित करेगी। प्रधानमंत्री द्वारा देश का आत्मनिर्भर भारत बनाने का मिशन अब जल्द धरातल पर क्रियान्वित होगा। जिससे वैश्विक पटल पर भारत को और अधिक मजबूती मिलेगी।

मीडिया प्रभारी सुमित सन्नी ने कहा कि वैश्विक महामारी के इस कालखंड में भी संपूर्ण विधाओं को किनारे रखकर जिस प्रकार से प्रधानमंत्री ने संपूर्ण राष्ट्र से आगामी पांच जून को पर्यावरण दिवस के मौके पर वृक्षारोपण समेत अन्य कई पर्यावरण संरक्षण के कार्य करने की अपील की है, वह सराहनीय है।

Next Story
Share it