Top
Action India

कई गांवों की ग्राम पंचायत में मनरेगा के तहत श्रमिकों को मिला काम

कई गांवों की ग्राम पंचायत में मनरेगा के तहत श्रमिकों को मिला काम
X

मथुरा । एएनएन (Action News Network)

मथुरा कई कस्बों के प्रधानों ने प्रवासी श्रमिकों को महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के तहत कार्य दे दिया है। जिसके चलते अब प्रवासी मजदूर इस आर्थिक तंगी से राहत महसूस कर रहे है। राया कस्बे में मनरेगा के तहत प्रवासी मजदूरों को काम दिया गया है तथा गोवर्धन ब्लॉक के ग्रामीण क्षेत्रों में बंद किए निर्माण कार्यो को पुनः शुरू कर दिया है। इससें बेरोजगार हुए श्रमिकों को संबल मिला है।

विदित रहे कि मनरेगा कार्य को लॉकडाउन में बंद कर दिया था। लेकिन सरकार ने नए नियमों के तहत इसे पुनः शुरू करने की अनुमति दी है। जिसके तहत राया कस्बे में महावन में प्रवासी मजदूरों को मनरेगा ही करा दिया गया है। बाहर रहकर जीवन यापन कर रहे मजदूर जहां लॉकडाउन में कारखाने आदि बंद होने के कारण अपने गांव वापस लौटे तो रोजगार के आभाव उनके सामने आया यहां के प्रधान ने यहां मजूदरों को मनरेगा के तहत कार्य दिया है।
वहीं दूसरी ओर सौंख कस्बे की ग्राम पंचायत नैनूपट्टी में संपर्क मार्गो को जोड़ने का कार्य शुरू करा दिया गया है। ग्राम पंचायत नैनूपट्टी के करीब आधा दर्जन कार्यो में सैकड़ों श्रमिक को प्रतिदिन रोजगार दिया जा रहा है। इस दौरान नगला जंगली से सैंदा मार्ग तक 700 मीटर, नगला अक्खा में गांव से बाबा कढे़रा सिंह धर्मशाला तक करीब 800 मीटर, डोमपुरा में गांव से गोवर्धन ड्रेन नाला तक करीब 500 मीटर कार्य मनरेगा के श्रमिकों द्वारा कराया जा रहा है।

ग्राम प्रधान कमलेश देवी ने बताया कि ग्राम पंचायत क्षेत्र में मनरेगा कार्यो में श्रमिकों से सोशल डिस्टेसिंग की पालना करवाई जा रही है। श्रमिकों को कार्यस्थल पर छाया, पानी सहित अन्य सुविधाएं दी जा रही है। लॉकडाउन के चलते बंद किए गये कार्यो को शुरू के दौरान प्रधान प्रतिनिधि तेजवीर सिंह, ग्राम पंचायत अधिकारी लतेश शर्मा, रोजगार सेवक सतपाल सिंह आदि ने निरीक्षण किया।

Next Story
Share it