Action India
अन्य राज्य

छेड़खानी करता था सिपाही का बेटा, विरोध किया तो हत्या कर दी

छेड़खानी करता था सिपाही का बेटा, विरोध किया तो हत्या कर दी
X

गोरखपुर । एएनएन (Action News Network)

चौरीचौरा थाना क्षेत्र में एक सिपाही के बेटे द्वारा हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है। वजह सिर्फ इतनी थी कि उसके द्वारा की जारी छेड़खानी का विरोध किया गया था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और सिरफिरे युवक की तलाश ने जुटी है। हत्या उस समय हुई जब महिला टहलने के लिए बाहर निकली थी।

बताया जा रहा है कि सिपाही का आरोपी बीटा हाईस्कूल का छात्र है। जानकारी के मुताबिक चौरीचौरा क्षेत्र के टेलहनापार निवासी नीरज कन्नौजिया की पत्नी आशा देवी (32) डुमरी खास में ब्यूटी पार्लर चलाती थीं। उनके पति नीरज कन्नौजिया गाड़ी चलाते हैं। आरोप है कि उत्तर प्रदेश पुलिस में कांस्टेबल गांव के ही कमलेश यादव का बेटा अक़्सर आशा देवी के परिवार की बेटी के साथ छेड़खानी करता था। इतना ही नहीं, वह ब्यूटी पार्लर पर भी पहुंच कर महिला को परेशान करता था। बताया जा रहा है कि आशा देवी इसका विरोध करती थीं। शुक्रवार की शाम को भी सिपाही पुत्र ने आशा देवी के परिवार की बेटी के साथ छेड़खानी की। फिर आशा देवी ने उसके घर जाकर सिपाही के बेटे की शिकायत की। सिपाही पुत्र को जब इसकी जानकारी हुई तो उसने घरवालों से उसे जानबूझ कर छेड़खानी में फंसाने की कहानी सुनाई। इसके बाद सिपाही का बेटा और उसके परिवार आशा देवी के घर पहुंच गए। मारपीट शुरू हो गई।

आरोप है कि सिपाही पुत्र ने ईंट से मारकर आशा देवी का सिर कूंच दिया। आशा देवी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां से चिकित्सकों ने उन्हें मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। मामले की जानकारी होने पर गांव पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अब सक्रिय हुई पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश देना शुरू किया है।चौरीचौरा थाना प्रभारी सूर्यभान सिंह ने बताया कि छेड़खानी के अलावा जमीन का विवाद का मामला भी है। आरोपी की तलाश की जा रही है। जल्दी ही उसकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

Next Story
Share it