Top
Action India

काला अम्ब में फार्मा उद्योग जीवन रक्षक दवाएं व सेनिटाइजर्स रहा बना, लेबर की समस्या

नाहन । एएनएन (Action News Network)

कोरोना महामारी के चलते इस दिनों लॉकडाउन चला हुआ है परन्तु सरकार ने दवा उद्योगों को कार्य करने की इजाजत दी है। जिसके चलते सिरमौर जिला के औद्योगिक क्षेत्र काला अम्ब में दवा उद्योग जहाँ जीवन रक्षक दवाएं बना रहे हैं वहीं हैंड सेनिटाइजर्स भी बनाये जा रहे हैं। केंद्र सरकार के दिशा निर्देशों के अनुरूप सोशल डिस्टेंसिंग ,सेंटाइजिंग सुविधा के साथ यहाँ पर कार्य चला हुआ है। परन्तु हरियाणा की सीमा से सटे होने के कारण इन उद्योगों में लेबर की समस्या सामने आ रही है। क्योंकि इंटर स्टेट मूवमेंट न होने से लेबर की कमी आ रही है साथ ही ट्रांसपोर्ट सुविधा न होने से भी इन्हे बहुत दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है। अधिकांश लेबर हरियाणा से आती है।

फार्मा उद्योग सरकार के निर्धारित मापदंडों के अनुसार कार्य करने में लगा हुआ है परन्तु इनकी मांग है कि जिला प्रशाशन उनकी समस्याओं बारे गंभीर चिंतन करे ताकि उद्योगों में कार्य किया जा सके। इस समय प्रोडक्शन में काफी कमी आयी है। उद्योग मालिक मनोज गर्ग ने बताया कि उनके यहाँ सरकारी निर्देशों के अनुसार कार्य किया जा रहा है व सोशल डिस्टेंसिंग, सेनिटाइजेशन, लेबर को भोजन सुविधा सहित वेतन दिया जा रहा है। महज लेबर की कमी से कार्य प्रभावित हो रहा है।

फार्मा उद्योग के प्रदेश अध्यक्ष चंदरशेखर पुष्करण ने बताया कि वो सरकारी निर्देशों का पालन करते हुए कार्य कर रहे हैं लेकिन उन्हें कई समस्याएं सामने आ रही हैं जिसका उन्होने उपायुक्त सिरमौर को भी पत्र लिखा है। सरकार को इन समस्याओं पर जल्द ध्यान देना चाहिए ताकि यह महत्वपूर्ण कार्य चलता रहे। कुल मिलाकर लॉकडाउन में भी फार्मा उद्योग जीवन रक्षक दवाएं, सेनिटाइजर्स बना रहा है परन्तु उन्हें अब कई समस्याएं भी पेश आ रही हैं। ऐसे में सरकार को जल्द इस और ध्यान देने की जरूरत है।

Next Story
Share it