Top
Action India

हरियाणा और पंजाब में कोहरे से सुबह के समय दृश्यता घटी

हरियाणा और पंजाब में कोहरे से सुबह के समय दृश्यता घटी
X

चंडीगढ़ । एक्शन इंडिया न्यूज़

पश्चिमी हवाओं के रुख से दिसम्बर माह के पहले सप्ताह में अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। हरियाणा एवं पंजाब के ज्यादातर हिस्सों में 0.5 डिग्री सेल्सियस से लेकर 5.6 डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान में बढ़ोतरी हुई है। हालांकि इसी बीच दोनों राज्यों में पिछले दो दिनों से कोहरे की चादर छानी शुरू हो गई, जिससे सुबह के समय दृश्यता काफी घट गई है। सुबह के समय वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ हा है। बहरहाल पश्चिमी हवाओं से आगामी दो-तीन दिन तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा एवं पंजाब में कई जगहों पर शुक्रवार रात को न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर रहा। इसके साथ ही पंजाब के लुधियाना एवं पटियाला और हरियाणा के करनाल, अंबाला एवं कैथल समेत कई जगहों पर सुबह कोहरे के कारण दृश्यता कम रही।

हरियाणा के अंबाला में न्यूनतम तापमान 9.3 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि हिसार में 7.9 डिग्री सेल्सियस और करनाल में 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रोहतक में न्यूनतम तापमान 8.2 डिग्री सेल्सियस तथा सिरसा में यह 10.2 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं पंजाब के अमृतसर में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लुधियाना में 7.8, पठानकोट में 9.5, आदमपुर में 7.9, हलवारा में 9.5 और बठिंडा में 9.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से अधिक है। चंडीगढ़ का न्यूनतम तापमान 10.6 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक दिन में बादल छाने एवं हवाएं चलने से न्यूनतम तापमान पर असर पड़ रहा है। विभाग की ओर से संभावना जताई गई है कि अगले सप्ताह मौसम परिवर्तनशील रहेगा। पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी होने से मैदानी क्षेत्रों में शीतलहर और ठंड बढ़ने की संभावना है।

पुलिस की ओर से भी बदलते मौसम को देखते हुए एडवाइजरी जारी गई है। एडवाइजरी के मुताबिक वाहन चालक एंटी फाॅग लाइटों एवं डिपर का प्रयोग करें। किसान अपने टैक्टरों एवं ट्रालियों पर रिफलेक्टर लगवाएं। जिन वाहनों में लाइट नहीं होती उन्हें भी रिफलेक्टर का प्रयोग करना चाहिए।

Next Story
Share it