Top
Action India

मेरठ : गांवों में कहर ढा रहा कोरोना, ग्रामीणों में दहशत

मेरठ : गांवों में कहर ढा रहा कोरोना, ग्रामीणों में दहशत
X

मेरठ। एक्शन इंडिया न्यूज़

शहरी क्षेत्रों के साथ ही गांवों में भी कोरोना कहर बरपा रहा है। गांवों में रहस्यमयी बुखार से लगातार लोगों की मौत हो रही है। इससे ग्रामीणों में दहशत व्याप्त हो गई है। घबराए हुए लोग जांच करवाने भी नहीं जा रहे हैं।

जनपद के प्रत्येक गांव में इस समय कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। प्रत्येक घर में बुखार के मरीज भरे हुए हैं। यह बुखार लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। गांवों में इस रहस्यमयी बुखार की चपेट में आकर लोग मर रहे हैं और स्वास्थ्य विभाग इससे अनजान हैं। वह केवल गांव में मिलने वाले कोरोना मरीजों को ही गिन रहा है। जबकि ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है।

परतापुर क्षेत्र के गगोल गोथरा गांव में एक महीने में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वालों में कोरोना के लक्षण साफ दिखाई दे रहे हैं, लेकिन जांच नहीं होने के कारण उन्हें कोरोना के कारण मौतों में नहीं गिना जा रहा। इससे ग्रामीण भयभीत है। सरधना क्षेत्र के खेड़ा गांव में एक सप्ताह के दौरान 25 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी तरह से प्रत्येक गांव में कोरोना जैसे लक्षण होने के बाद भी लोग उसे साधारण बुखार मान रहे हैं, जो उनकी मौत का कारण बन रहा है।

बीमारी छिपाने में जुटे ग्रामीण

दरअसल गांवों में कोरोना को लेकर अभी भी भ्रांति है। इसलिए कोरोना जैसे लक्षण उभरने के बाद भी ग्रामीण जांच कराने को तैयार नहीं है। उनका कहना है कि जब शहर के अस्पतालों में ही मरीजों की मौत हो रही है तो उनमें कोरोना की पुष्टि के बाद उन्हें भी अस्पताल में भर्ती करा दिया जाएगा। इस कारण लोग अपनी बीमारी छिपाए हुए हैं और गांव में जैसे-तैसे अपना इलाज करा रहे हैं।

वैक्सीन लगवाने को तैयार नहीं हो रहे लोग

ग्रामीणों में कोरोना वैक्सीन को लेकर भी भ्रम बना हुआ है। इन लोगों का मानना है कि वैक्सीन लगवाने के बाद भी कोरोना हो रहा है और लोग मर रहे हैं। इस कारण बहुत से लोग कोरोना वैक्सीन लगवाने को तैयार नहीं है। सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी लोगों का भ्रम दूर नहीं हो रहा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ.अखिलेश मोहन का कहना है कि गांवों में कोरोना मरीजों की खोज के लिए बड़ा अभियान चलाया गया। इस दौरान लोगों को कोरोना के बारे में जागरूक भी किया गया। लोगों को भ्रम दूर करके वैक्सीन लगवाने को आगे आना चाहिए।

गांवों में चल रहा सेनेटाइजेशन अभियान

जिला पंचायत राज अधिकारी आलोक सिन्हा ने बताया कि गांवों में सेनेटाइजेशन, फाॅगिंग और स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। इससे गांवों को बीमारियों से दूर रखने में मदद मिलेगी। अपने क्षेत्र में सेनेटाइजेशन, फाॅगिंग और स्वच्छता कार्य करवाने के लिए लोग उनके मोबाइल नंबर 9935026015 पर व्हाट्सऐप मैसेज भेजकर या काॅल करके अथवा ट्वीटर और फेसबुक अकाउंट पर मैसेज भेज सकते हैं।

Next Story
Share it