Top
Action India

सड़क सुविधा के इंतजार में भिलंगना का जमोलना गांव

सड़क सुविधा के इंतजार में भिलंगना का जमोलना गांव
X

नई टिहरी। एक्शन इंडिया न्यूज़

भिलंगना ब्लॉक का जमोलना गांव राज्य निर्माण के 20 सालों बाद भी सड़क मार्ग से नहीं जुड़ पाया है। सड़क सुविधा के अभाव में ग्रामीण कई किमी पैदल दूरी नापने को मजबूर हैं। ग्रामीणों ने शासन-प्रशासन से गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने की मांग की है।

पूर्व ग्राम प्रधान विनय लक्ष्मी सेमवाल का कहना है कि पूर्ववर्ती भाजपा की केंद्र सरकार में सड़क व राजमार्ग मंत्री रहे बीसी खंडूड़ी ने गांव को जोड़ने के लिए मैगाधार से भेटी-जमोलना मोटर मार्ग की स्वीकृति प्रदान की थी, लेकिन तब से मार्ग निर्माण के लिए धन की स्वीकृति नहीं मिल पाई है। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद भी जनप्रतिनिधियों में लगातार सड़क के लिए पत्राचार किया गया, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो पाई।

उन्होंने कहा कि जमोलना गांव आपदा की दृष्टि से अति संवेदनशील है। ग्रामीणों ने विगत 2017 के विधानसभा चुनाव में रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा देकर चुनाव बहिष्कार किया था। फिर भी मार्ग की स्वीकृति का कार्य आगे नहीं बढ़ पाया है।

भाजपा नेता जीत सिंह शाह ने इसे क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की नाकामी बताते हुए पुनः 2022 के विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने की चेतावनी दी है।

इस संबंध में क्षेत्रीय विधायक शक्तिलाल शाह का कहना है कि मोटरमार्ग की डीपीआर शासन को भेजी गई। वह उक्त मोटर मार्ग के लिए लगातार प्रयासरत हैं। शासन से शीघ्र स्वीकृति के बाद सड़क का निर्माण कार्य शुरू करवाया जाएगा।

Next Story
Share it