Action India
राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री मंगलवार को करेंगे अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का उद्घाटन

प्रधानमंत्री मंगलवार को करेंगे अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का उद्घाटन
X

नई दिल्ली । एक्शन इंडिया न्यूज़

छठे भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 2020 का काउंटडाउन शुरू हो गया है। इस विज्ञान महोत्सव का उद्घाटन मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे। केन्द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान तथा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि इस वर्ष कोविड के कारण आईआईएसएफ 2020 का आयोजन ऑनलाइन किया जा रहा है और यह वर्चुअल माध्यम से सबसे बड़ा विज्ञान महोत्सव बन जाएगा।

सोमवार को आईआईएसएफ 2020 के कर्टन रेजर प्रेस वार्ता में डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उद्घाटन सत्र को कल संबोधित करेंगे, जबकि उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू 25 दिसम्बर, 2020 को समापन सत्र को संबोधित करेंगे। डॉ. हर्ष वर्धन ने स्पष्ट किया कि विज्ञान और वैज्ञानिकों ने सदैव चुनौती का डटकर सामना किया है और बताया कि कोविड-19 महामारी के दौरान भारतीय वैज्ञानिकों ने स्थिति का मुकाबला किया और छोटे से कार्यकाल में बड़ी संख्या में सेनेटाइजर, फेस मास्क, पीपीई किट और वेंटिलेटर बनाए और कोविड-19 वायरस से लड़ने के लिए नई दवाएं, वैक्सीन और जीनोम अनुक्रमण किया।

डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि आईआईएसएफ एक वार्षिक आयोजन है। यह भारत सरकार की पहल है और इसे विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और सीएसआईआर तथा विज्ञान भारती मिलकर आयोजित करते हैं। इस आयोजन में कई अन्य संगठन भी सहायता देते हैं। इस वर्ष यह महोत्सव विश्व विख्यात गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजम की जयंती पर शुरू होगा और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के अवसर पर 25 दिसम्बर को संपन्न होगा।

सीएसआईआर के महानिदेशक और डीएसआईआर के सचिव डॉ. शेखर सी. मांडे ने अपने स्वागत भाषण में आईआईएसएफ 2020 के महत्व को उजागर किया। उन्होंने यह भी कहा कि इस विशाल विज्ञान महोत्सव का कुल पंजीकरण एक लाख की संख्या को पार कर गया है। उन्होंने कहा कि लोगों की इतनी बड़ी संख्या में उपस्थिति से हम उत्साहित हैं और इससे पता चलता है कि जनता विज्ञान महोत्सव में रुचि ले रही है तथा आईआईएसएफ विज्ञान को समाज तक ले जाने का एक प्रमुख मंच बन गया है।

उन्होंने बताया कि गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड आईआईएसएफ का अनूठा इवेन्ट है और इस वर्ष हम पांच श्रेणियों में गिनिज बुक रिकॉर्ड बनाने का प्रयास करेंगे। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि आईआईएसएफ 2020 की इवेन्ट नौ शाखाओं में आयोजित की जा रही हैं। ये शाखाएं हैं- जन-जन के लिए विज्ञान, विद्यार्थियों के लिए विज्ञान, नई सीमाएं, उद्योग और एमएसएमई, कृषि और ग्रामीण विकास के लिए विज्ञान, समावेशी विकास, विज्ञान और मानविकी, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय लिंकेज तथा टिकाऊ विकास।

Next Story
Share it