Action India
झारखंड

नक्सलियों ने सात वाहनों में लगायी आग, तीन करोड़ से अधिक के नुकसान की आशंका

नक्सलियों ने सात वाहनों में लगायी आग, तीन करोड़ से अधिक के नुकसान की आशंका
X

हजारीबाग। एआईएन

प्रतिबंधित नक्सली संगठन टीपीसी ने जिलाे के कटकमसांडी रेलवे स्टेशन के नजदीक रेलवे साइडिंग में सोमवार रात हमला कर आधा दर्जन से अधिक पेलोडर एवं हाईवा मशीनों में आग लगा दी। आग से चार पे लोडर एवं तीन हाईवा को नुकसान पहुंचा है। घटना में तीन करोड़ से भी अधिक के नुकसान की आशंका है।

जानकारी के मुताबिक दस-बारह हथियारबंद नक्सलियों ने कोल साइडिंग पर सोमवार रात करीब 12 बजे हमला कर दिया। वहां मौजूद मजदूरों व अन्य कर्मियों को कब्जे में लेकर वाहनों में आग लगा दी। वाहनों में आग लगाने के बाद नक्सलियों ने वहां मौजूद लोगों को चेतावनी दी कि उनके आदेश के बिना रैक में कोयला लोंडिंग व डंपिंग जैसा कोई भी कार्य नहीं होगा। नक्सलियों ने घटनास्थल पर पर्चा भी छोड़ा। घटना को अंजाम देकर नक्सली फरार हो गए।

नक्सलियों के उपद्रव से इलाके के लोग रातभर दहशत में रहे। लोग इस कदर दहशत में थे कि पुलिस को सुबह घटना की जानकारी दी गई। कटकमसांडी थाना प्रभारी अरुण कुमार दूबे दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जानकारी लेकर जांच शुरू की। माना जा रहा है कि नक्सलियों द्वारा लेवी वसूली को लेकर वाहनों में आग लगाई गई है।

घटना की जानकारी मिलने पर वरीय पुलिस पदाधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया। एसपी मयूर पटेल के निर्देश पर डीएसपी विवेकानंद ठाकुर भी घटनास्थल पर पहुंचे।

बताया गया है कि कटकमसांडी रेलवे साइडिंग पर मां अंबे कंपनी का कोयला रैक पर लोड होता है, हालांकि वहां स्थानीय लोग ही कोयला रैक पर लोड करने का काम करते हैं। यह भी सूचना है कि 15 दिनों पूर्व ही लेवी की मांग को लेकर नक्सलियों ने वहां के लोगों को धमकाया था। हालांकि इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी गई थी। पुलिस नक्सलियों को जल्द गिरफ्तार कर लेने की बात भी कह रही है।

Next Story
Share it