Action India
अन्य राज्य

नोएडा: फर्जी कॉल सेंटर चला कर धोखाधड़ी करने वाला गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार

नोएडा: फर्जी कॉल सेंटर चला कर धोखाधड़ी करने वाला गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार
X

नोएडा । एएनएन (Action News Network)

भारत अभी वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ रहा है, लेकिन अपराधियों के हौसले बुलंद दिखाई दे रहे हैं। उत्तर प्रदेश के जिला गौतमबुद्ध नगर में पूर्णबंदी (लॉकडाउन) के दौरान फर्जी कॉल सेंटर चला कर विदेश के लोगों से पैसा ठगी करने वाला गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस ने सात आरोपितों को गिरफ्तार किया है जबकि गिरोह का सरगना समेत पांच लोग फरार है।

पुलिस उपायुक्त प्रथम संकल्प शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि गुरुवार की रात को सेक्टर 39 थाने में एक गुप्त सूचना मिली कि सी 213 सेक्टर 105 नोएडा पर फर्जी कॉल सेन्टर का संचालन किया जा रहा है। पुलिस ने वहां छापा मारकर सात लोगों को गिरफ्तार कर मौके से कॉल सेंटर चलाने वाला उपकरण इत्यादि भी बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपितों की पहचान नोएडा निवासी जुगल सेठी, निखिल सेठी, मुंबई निवासी गणेश ओमप्रकाश शर्मा, हिमेश बान्देकर ,एडवर्डगोम्स, सैफ सैय्यद और गुजरात निवासी तौफीक कजानी के रूप में हुई है।

आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि उनका एक गिरोह है, जिसका सरगना धवल उर्फ देवेन्द्र है। ये लोग शाफ्ट डायलर साफ्टवेयर के माध्यम से विदेशों मे वीओआईपी कॉल करते थे। कॉलर को यह कहते थे कि आपके सोशल सिक्योरिटी नम्बर (आधार कार्ड की तरह ) से कोई अपराध कारित किया गया जैसे ड्रग्स ट्रैफिकिंग , मनी लाडरिंग व वाहन का अपराध, इसके बाद ये बदमाश खुद को विभिन्न पुलिस एजेन्सियों से बताते हुये उनसे जुर्माने के रूप मे धनराशि वसूल करते थे। साथ ही इसी बहाने उनके बैंक एकाउन्ट, क्रेडिट कार्ड की डिटेल भी हासिल कर लेते थे। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि धवल उर्फ देवेन्द्र गिरोह का मुखिया है और उसके अन्य साथी राकेश उर्फ गूरूदेव, गवीन एन्थोनी, प्रवीन और अभिनाम अभी फरार है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Next Story
Share it