Top
Action India

उदयपुर में सिर्फ हेलमेट से काम नहीं चलेगा, कमर में पट्टा भी लगाकर चलना पड़ेगा!

उदयपुर में सिर्फ हेलमेट से काम नहीं चलेगा, कमर में पट्टा भी लगाकर चलना पड़ेगा!
X

उदयपुर । Action India News

यदि आप उदयपुर शहर के निवासी हैं और काम पर जाने के लिए सुबह घर से दुपहिया वाहन पर निकल रहे हैं तो हेलमेट याद रखना ही काफी नहीं है, इन दिनों आपको कमर में पट्टा लगाकर भी चलना होगा और बेहतर है कि आपके पास यदि कमर का पट्टा नहीं है तो खरीद ही लीजिये।

यह पीड़ा सिर्फ एक शहरवासी की नहीं है, पूरा शहर सडक़ों के गड्ढों और बिखरे पड़े मलबे से त्रस्त है। उदयपुर का बापू बाजार जो कि शहर का महत्वपूर्ण आवागमन का मार्ग है और शहर का हर निवासी हर दिन नहीं तो कम से कम हफ्ते में एक बार तो इस रस्ते से गुजरता ही है, स्मार्ट सिटी के काम के चलते उबड़-खाबड़ हो चुका है।

इससे यहां के व्यापारी तो परेशान हैं ही, इस बाजार से गुजरने वाले दुपहिया वाहन चालक को हर वक्त यही आशंका रहती है कि कहीं गाड़ी का टायर न फट जाए और वह गिर न जाए। यही हालत धोली बावड़ी, यूनिवरसिटी रोड और सबसे महत्वपूर्ण सूरजपोल चौराहे से उदियापोल चौराहे जाने वाली सडक़ के हिस्से के भी ऐसे ही हाल हैं। और जिन गलियों में काम चल रहा है उनका जिक्र नहीं भी किया जाए तब भी शहरवासी उसकी पीड़ा से रोज दो-दो हाथ कर रहे हैं।

अच्छा है कि सरकार ने हेलमेट पर इतना जुर्माना कर दिया कि लोगों को पहनने की मजबूरी हो गई। कोरोना के बाद कमाई से ज्यादा जुर्माना कोई नहीं भरना चाहेगा। हेलमेट के साथ एक काम तो स्वत: हो जाता है कि मुंह के आंगे कांच होता है और यदि किसी ने मास्क भूलवश नहीं भी लगाया है तब भी कुछ तो वह सुरक्षित ही है।

Next Story
Share it