Action India

राज्य की नई शिक्षा नीति विद्यार्थी के लिए होगी लाभदायक: जगनमोहन रेड्डी

राज्य की नई शिक्षा नीति विद्यार्थी के लिए होगी लाभदायक: जगनमोहन रेड्डी
X

अमरावती। एक्शन इंडिया न्यूज़

मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने आज राज्य की नई शिक्षा नीति की समीक्षा करते हुए इसे लागू करने के लिए एक कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री रेड्डी ने अपने कैम्प कार्यालय में शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा बैठक की। बैठक के बाद शिक्षा विभाग ने विज्ञप्ति में बताया कि मुख्यमंत्री जगन ने नई शिक्षा नीति की समीक्षा करने के बाद इसकी अमलावरी के लिए कार्य योजना तैयार करने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने इस पर होने वाले खर्च की भी जानकारी देने को कहा है। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति से अध्यापकों तथा विद्यार्थियों के साथ भविष्य के छात्रों के लिए भी लाभदायक सिद्ध होगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अध्यापकों के साथ अन्य भागीदारों को इस संबंध में जागरूक किया जाए।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक मंडल में एक या दो जूनियर स्कूल की स्थापना करने, ऐसे स्कूल जिनके पास खेल मैदान नहीं है, उन स्कूलों के लिए भूमि की खरीदारी करने, इस शैक्षणिक वर्ष से शिक्षा उपहार के अंतर्गत अतिरिक्त स्पोर्ट्स पर ध्यान देने एवं स्कूल की यूनिफॉर्म देने के विषय पर भी विचार करने के आदेश दिए गए।

जगनमोहन रेड्डी ने कहा कि करोना के कारण स्कूलों तथा आंगनबाड़ियों से एक भी कर्मचारी को नहीं हटाया जा रहा है और न ही किसी भी सेंटर को बंद किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दो प्रकार के स्कूलों को रखना सरकार का लक्ष्य है।

उन्होंने प्रीपेरेटरी क्लास, प्रथम तथा दूसरी कक्षाओं को जोड़कर एक स्कूल बनाने के साथ तीसरी से 10वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए एक और स्कूल स्थापित किया जाए। 40 विद्यार्थियों के लिए एक अध्यापक के अनुपात में अध्यापकों की नियुक्तियां की जाए। उन्होंने कहा कि अनिवार्य रूप से फाउंडेशन कोर्स का संचालन किया जाना चाहिए।


Next Story
Share it