Action India
अरुणाचल प्रदेश

भाजपा ने विपक्ष के आरोपों को किया खारिज

भाजपा ने विपक्ष के आरोपों को किया खारिज
X

इटानगर। एक्शन इंडिया न्यूज़

अरुणाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को कांग्रेस नेतृत्वाधीन विपक्षी पार्टी द्वारा केंद्र की भाजपा सरकार को पेगासस स्पाइवेयर का उपयोग करते हुए देश के राजनीतिक नेताओं पर जासूसी करने के आरोप को खारिज करते, इसे "निराधार" और "झूठा" बताया है।


बुधवार को अरुणाचल प्रेस क्लब में प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता डॉ महेश चाई ने एक संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि विपक्षी दल ने किसी बाहरी संगठन की मदद से पेगासस स्पाइवेयर मामले को लेकर केंद्र सरकार पर हमले की कहानी बनाई है। विपक्ष मानसून सत्र को बाधित करते हुए संसद और देश के विकास की गतिविधियों को पटरी से उतारने के प्रयास में है।


अपने दावों को सही ठहराते हुए चाई ने कहा कि देश के पिछड़े लोगों, महिलाओं, युवाओं आदि के कल्याण के लिए कुछ महत्वपूर्ण विधेयक संसद के मानसून सत्र में पारित करना है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सत्र के दौरान नए कैबिनेट मंत्रियों का परिचय कराना था। लेकिन, विपक्ष ने पेगासस की निराधार कहानी को संसद में गढ़कर संसद के सत्र को बाधित किया जो बहुत ही निंदनीय है।


उन्होंने कहा कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहले विपक्षी दलों से स्पष्ट आह्वान किया था विपक्ष कोई भी सवाल सरकार पूछ सकता है और केंद्र की वर्तमान सरकार संसद सत्र में विकास से संबंधित किसी भी मुद्दे पर बहस करने के लिए तैयार है। केंद्र ने यह कहा है कि उसके पास छुपाने के लिए कुछ भी नहीं है।"


चाई ने खेद व्यक्त किया कि प्रधानमंत्री के अनुरोध के बावजूद कांग्रेस पार्टी ने पेगासस की कहानी गढ़ी, वह भी बिना किसी सबूत के। अपने दावों को साबित करने के लिए संसद सत्र के दौरान अनावश्यक रूप से बाधाएं पैदा कर संसद की पवित्रता को दागदार किया है।


भाजपा के प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री को महत्वपूर्ण पिछड़ा समर्थक जन कल्याण विधेयक लाने से रोकने के प्रयास में संसद के पटल पर हंगामा करना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और गैरजरूरी है।


मिलियन डॉलर का सवाल यह है कि संसद सत्र शुरू होने से ठीक एक दिन पहले कांग्रेस इस मुद्दे को क्यों लेकर आई। कांग्रेस पार्टी एनडीए सरकार पर बिना किसी ठोस सबूत के बेबुनियाद आरोप लगा रही है और देश को गुमराह करने की कोशिश कर रही है।


चाई ने कहा कि मौजूदा मोदी के नेतृत्व वाली सरकार को बदनाम करने की चाल में कांग्रेस पार्टी का समर्थन करने वाली बाहरी ताकतें या विदेशी ताकतें हो सकती हैं जिस पर हमारे देश के कुछ विपक्ष नेता अपने मतलब के लिए उनका समर्थ कर रहे हैं।

Next Story
Share it