Top
Action India

महाजोट के महाझूठ की होगी महाहार- नरेन्द्र मोदी

महाजोट के महाझूठ की होगी महाहार- नरेन्द्र मोदी
X
  • कोकराझार की जनसभा में कांग्रेस व एआईयूडीएफ पर जमकर बरसे मोदी

कोकराझार (असम)। एक्शन इंडिया न्यूज़

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोकराझार में आयोजित विशाल चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, कांग्रेस के महाजोट (महागठबंधन) के महाझूठ की असम में महाहार होने वाली है।

इसका नजारा जनसभा में उपस्थित जनता ने करा दिया है।

इसके पहले प्रधानमंत्री कोकराझार समेत तीन विधानसभा क्षेत्रों के भाजपा और यूपीपीएल गठबंधन उम्मीदवारों के समर्थन में जनसभा को संबोधित करने के लिए पहुंचे।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद दिलीप कुमार सैकिया, यूपीपीएल के अध्यक्ष प्रमोद बोडो समेत अन्य नेता उनके स्वागत के लिए मौजूद थे।

तीसरे चरण के चुनाव प्रचार के मद्देनजर गुरुवार को कोकराझार जिला मुख्यालय पहुंचे नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस और एआईयूडीएफ की जमकर आलोचना की।

उपस्थित जनता का बोड़ो भाषा में आभार व्यक्त करते हुए मोदी ने कहा, पहले चरण की वोटिंग में मतदाताओं ने एनडीए को भरपूर सहयोग दिया है।

एनडीए की भव्य विजय पर मतदाताओं ने मुहर लगा दी है। आज भी दूसरे चरण का जो मतदान चल रहा है, वह उत्साहजनक है। पूरा हिंदुस्तान यह जानता है कि यहां के नौजवानों में फुटबाल बहुत फेमस है।

फुटबाल की भाषा में कांग्रेस और महागठबंधन को यहां के लोगों ने रेड कार्ड दिखा दिया है। यहां के लोगों का विश्वास एनडीए पर है। कांग्रेस के महाजोट पर नहीं है।

मोदी ने कहा कि महाजोट वाले अफवाह फैला रहे हैं। इसको समझना होगा।

इस बात को कोकराझार की जनता बेहतर तरीके से समझ रही है। यह चुनाव महाजोट के महाझूठ और एनडीए के विकास के बीच है।

कांग्रेस ने हमारे नामघरों, सत्रों को अवैध कब्जा कर गिरोहों के हवाले कर दिया था।

एनडीए ने उसे मुक्त किया। कांग्रेस ने पहाड़, मैदान, बराक-ब्रह्मपुत्र में टकराव किया, एनडीए ने दिलों को दिलों से जोड़ा, विकास के सेतु से जोड़ा है।

उन्होंने कहा, कांग्रेस ने पानी, बिजली, सड़क, गैस जैसी सुविधाओं के लिए यहां की जनता को लंबे समय तक तरसाया है। एनडीए हर सुविधा को घर तक पहुंचाने के लिए आज जी जान से जुटी हुई है।

कांग्रेस ने चाय बागान में काम करने वाले लोगों को कभी पूछा तक नहीं। लेकिन एनडीए की सरकार ने चाय बागान के लोगों की हर चिंता के लिए काम करने का प्रयास किया।

भूमि का पट्टा, मजदूरी बढ़ाना, चाय बागान में काम करने वाली बहनों, बेटियों के जीवन को आसान बनाने का काम किया है। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के साथ एनडीए की सरकार ने काम किया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ऐसी कोई जनजाति नहीं जिससे कांग्रेस ने विश्वासघात नहीं किया।

एनडीए की सरकार राज्य की कोच, राजवंशी, मोरान, मटक, चुटिया सभी जातियों के हित में कदम उठा रही है। इसके लिए नयी विकास परिषद के गठन के लिए काम तेजी से चल रहा है। हमारा प्रयास है कि सभी जनजाति का सामूहिक विकास हो।इस दिशा में निरंतर काम जारी है।

प्रधानमंत्री ने कहा, मुझे संतोष है कि 2016 में बीटीआर में शांति और विकास का हमने जो वादा किया था, उसके लिए हमने ईमानदार प्रयास किया।

कांग्रेस के लंबे शासन ने बम, बंदूक और ब्लाकेट की आग में इस क्षेत्र को झोंक दिया था।

एनडीए ने असम को शांति और विकास की सौगात दी है।

नरेन्द्र मोदी ने कहा, अटल जी की सरकार ने बीटीसी को अधिकार दिया था।

एनडीए की वर्तमान सरकार ने स्थायी शांति के लिए ऐतिहासिक बोड़ो समझौता किया है।

आज बीटीआर का विस्तार भी हुआ है और विकास की नहीं शुरुआत भी हुई है। बोड़ो के स्थायी विकास के लिए हमारा मंत्र- पीस, प्रोग्रेस और प्रोटेक्शन है।

उन्होंने कहा, बीते वर्षों में बीटीआर के लिए सैकड़ों करोड़ रुपये विशेष रूप से दिए गये हैं।

इसके तहत अनेक प्रोजेक्ट पर काम हो रहा है।

कोकराझार में मेडिकल कॉलेज के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है।

15 सौ करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की गयी है। उन्होंने कहा, यहां की भाषा, परंपरा, पहचान की सुरक्षा भी हमारा संकल्प है। हम उसे अपना दायित्व मानते हैं।

बोड़ोफा उपेंद्र नाथ ब्रह्म के नाम से कल्चरल कांप्लेक्स और सेंटर फार एक्सलेंसी का निर्माण किया जा रहा है जो यहां के गौरव को बढ़ाएगा।

बोड़ो भाषा को आठवीं सूची में शामिल करने का काम किया जा चुका है।

बोड़ो समाज की पहचान को सुरक्षित करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।

शांति और विकास के इस संकल्प के कारण बीटीसी चुनाव में जनता ने भाजपा और यूपीपीएल को अपना पूरा समर्थन दिया। यूपीपीएल के साथ हमें सेवा का अवसर दिया है।

परिषद चुनाव में जो समर्थन मिला है, उससे अधिक विधानसभा चुनाव में हमें समर्थन मिलेगा, यह साफ पता चल रहा है।

जनसभा में भारी संख्या में उपस्थित लोगों को देख प्रधानमंत्री अभिभूत हो गये। उन्होंने कहा कि लंबे समय के बाद असम में शांति लौटी है। उन्होंने कहा कि जो बंदूक छोड़कर लौटे हैं, उनके विकास के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

उन्होंने अन्य हथियार उठाने वालों से भी मुख्य धारा में लौटने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, कोकराझार के युवा व बहनें, हर नागरिक हिंसा के उस दौर को भूले नहीं है।

उस दौर में दिल्ली से लेकर गुवाहाटी तक कांग्रेस की सरकारें चुपचाप तमाशा देखती रहीं।

उन्होंने कहा, आज उनकी हिम्मत देखिए कि महाजोट बनाकर बोड़ो लोगों को छलने के लिए उतरे हैं। बोड़ो को हिंसा की आग में धकेलने वालों (एआईयूडीएफ) से आज अपना हाथ मिला लिया है।

ऐसे लोगों के साथ मिलकर असम में कांग्रेस सत्ता पाने और अपना अस्तित्व बचाने की कोशिश कर रही है।

मोदी ने एक वीडियो का जिक्र करते हुए कहा, असम की पहचान गमछा का सरेआम अपमान करने की बात सामने आई है, इस दृश्य को देख लोग बेहद गुस्से में है।

कांग्रेस के नेता ताला-चाभी वाले को असम की पहचान बता रहे हैं।

कांग्रेस की झूठ और उसकी साजिश को समझिए, सत्ता में वापसी के लिए कांग्रेस इन लोगों (एआईयूडीएफ) के सामने अपने को समर्पण कर चुकी है। इस अपमान की सजा कांग्रेस को तो मिलेगी ही, इस महाजोट को भी मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, असम की यह शांति हम सभी ने बहुत मुश्किल से हासिल की है।

इसको अब किसी भी हालत में कांग्रेस और उसके साथियों के हाथों लूटने नहीं देना है।

कोकराझार व बीटाआर के विकास से कांग्रेस का कुछ भी लेना देना नहीं है। सिर्फ सत्ता की कोशिश में कांग्रेस का महाजोट जुटा हुआ है।

उन्होंने कहा, असम के विकास के लिए डबल इंजन की सरकार जरूरी है। दोनों सरकारों की ताकत लगती है तो और तेजी से कार्य होता है।

मोदी ने कहा, असम में रेल, रोड, हवाई कनेक्टिविटी तेजी से बढ़ रही है।

गरीबों को पक्का घर मिल रहा है। इसी तरह शौचालय की सुविधा से हर घर को जोड़ा गया है। अब हर घर को जल से जोड़ा जा रहा है।

02 मई के बाद घर-घर पाइप से पानी पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। इसका लाभ सबसे अधिक महिलाओं को होगा।

उन्होंने कहा, महिलाओं के लिए हमारी सरकार तेजी से काम कर रही है। असम की सरकार भी तेजी से कार्य कर रही है। अनेकों प्रयास यहां तेजी से किये जा रहे हैं।

महिलाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए प्रयास किये गये हैं। लड़कियों को उच्च शिक्षा के लिए अनेक कॉलेज खोले गये हैं। पढ़ाई, सिंचाई, कमाई के लिए असम में काम किया गया है।

खेती के लिए भी काफी काम किये गये हैं। आधुनिक आधारभूत ढांचा बनाया जा रहा है।

किसान उत्पादक संगठन बनाए जा रहे हैं।

बांस व बेंत के रोजगार के लिए किये गये कदमों का भी उन्होंने बखान किया।

आगामी पांच वर्ष के लिए भाजपा के संकल्प पत्र का भी मोदी ने उल्लेख किया। उन्होंने एनडीए के उम्मीदवारों को जिताने का आह्वान किया।

Next Story
Share it