Action India
असम

बीकानेर-गुवाहाटी ट्रेन हादसे में मृतकों की संख्या हुई नौ, हादसा स्थल पर पहुंचे केंद्रीय रेल मंत्री

बीकानेर-गुवाहाटी ट्रेन हादसे में मृतकों की संख्या हुई नौ, हादसा स्थल पर पहुंचे केंद्रीय रेल मंत्री
X
  • 36 घायलों का चल रहा इलाज

गुवाहाटी। एक्शन इंडिया न्यूज़

दुर्भाग्यपूर्ण हादसे में दुर्घटनाग्रस्त हुई ट्रेन नं. 15633 बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस के मृतकों की संख्या नौ तक पहुंच गयी है। जबकि, तीन अस्पतालों में 36 घायलों का इलाज चल रहा है।

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शुक्रवार सुबह हादसा स्थल पर पहुंचकर अधिकारियों से घटना के कारणों के बारे में जानकारी ली। वहीं, पूसीरे के महाप्रबंधक, अलीपुरद्वार डिविजन के डीआरएम मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा ले रहे हैं। रेलवे का सुरक्षा विभाग भी मौके पर पहुंचकर हादसे के कारणों का पता लगाने में जुटा हुआ है। जबकि अभियंताओं की टीम रेलवे लाइन की मरम्मत में जुटा है।

पूर्वोत्तर सीमा रेल (पूसीरे) की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी गुनीत कौर द्वारा जारी जानकारी के अनुसार मृतकों में छह पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। इनमें से छह लोगों की पहचान हो गयी है, जबकि तीन लोगों की शिनाख्त फिलहाल नहीं हो पायी है। हादसे के शिकार 26 घायलों का इलाज एसएसएच जलपाईगुड़ी में चल रहा है। छह घायलों का इलाज नार्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज और सात घायलों का मयनागुरी रूरल अस्पताल में चल रहा है।

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी न्यू जलपाईगुड़ी और न्यू अलीपुरद्वार से दुर्घटना राहत ट्रेन के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर राहत एवं बचाव अभियान शुरू किया। राहत और बचाव कार्य में एनडीआरएफ की द्वितीय बटालियन, बीएसएफ के जवान, स्थानीय नागरिक प्रशासन, पुलिस विभाग ने भी हिस्सा लिया। पूसीरे के महाप्रबंधक भी दुर्घटनास्थल के लिए गुवाहाटी से ट्रेन तुरंत रवाना हुए।

हादसा पूसीरे के अलीपुरद्वार जंक्शन डिवीजन के तहत न्यू डोमोहानी स्टेशन के पास हुई। घटनास्थल न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन से लगभग 42 किमी और न्यू अलीपुरद्वार स्टेशन से लगभग 100 किमी दूर है। हादसा करीब शाम पांच बजे हुआ। हादसे में ट्रेन के 12 डिब्बे पटरी से उतर गए, जिनमें से 2 पलट गए।

दुर्घटना के समय ट्रेन में करीब 1053 यात्री सवार थे। यात्रियों को राहत के लिए रेलवे प्रशासन की ओर से हर संभव प्रयास किए गये। फंसे हुए यात्रियों को वैकल्पिक ट्रेनों से भेजने की भी व्यवस्था की गयी। सभी फंसे हुए यात्रियों को ट्रेन की पेंट्री कार से पीने का पानी और नाश्ता उपलब्ध कराया गया है। फंसे हुए यात्रियों को ले जाने के लिए रात 07.05 बजे न्यू जलपाईगुड़ी से एक विशेष ट्रेन को रवाना किया गया। बचाव कार्य पूरा होने की रेलवे प्रशासन ने जानकारी दी है।

हादसा के चलते कुछ ट्रेनों को वैकल्पिक रूट से डायवर्ट किया गया है। जिसमें 12346 गुवाहाटी-हावड़ा सराइघाट एक्सप्रेस, 12505 कामाख्या-आनंद विहार एक्सप्रेस, 12520 कामाख्या-एलटीटी एसी एक्सप्रेस, 15632 गुवाहाटी-बाड़मेर एक्सप्रेस, 20502 नई दिल्ली-अगरतला तेजस राजधानी एक्सप्रेस, 13173 सियालदह-अगरतला कंचनजंघा एक्सप्रेस, 15910 लालगढ़-डिब्रूगढ़ अवध असम एक्सप्रेस, 12507 त्रिवेंद्रम-सिलचर एक्सप्रेस, 22450 नई दिल्ली-गुवाहाटी एक्सप्रेस शामिल हैं।

रेलवे ने मृतक परिजनों के लिए पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। गंभीर रूप से घायलों को एक लाख रुपये और सामान्य घायलों को 25 हजार रुपये देने की घोषणा की गयी है।

पूसीरे ने घटना की जानकारी के लिए रेलवे ने पहले ही हेल्पलाइन नंबर सक्रिय कर दिया है। जिसमें गुवाहाटी: 03612731622/23, कटिहार: 06452230692, 9002041952, 9608815880 न्यू जलपाईगुड़ी: 9002041951, 9002041955, अलीपुरद्वार: 03564234206/234216/255190 शामिल हैं।

Next Story
Share it