Top
Action India

अनुसूचित जाति का दर्जा देने की मांग को लेकर श्रीरामपुर में ट्रेन परिचालन अवरूद्ध

अनुसूचित जाति का दर्जा देने की मांग को लेकर श्रीरामपुर में ट्रेन परिचालन अवरूद्ध
X

प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने किया हल्का बल प्रयोग

कोकराझार। एक्शन इंडिया न्यूज़

असम के कोकराझार जिला के श्रीरामपुर रेलवे स्टेशन पर रविवार की सुबह आदिवासी सेंगेल अभियान नामक आदिवासी संगठन द्वारा अपनी मांगों को लेकर ट्रेन का परिचालन अवरूद्ध कर जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया।

हजारों की संख्या में आदिवासी समुदाय के लोगों ने अनुसूचित जाति का दर्जा दिए जाने के साथ अन्य कई मांगों को लेकर श्रीरामपुर में 12 घंटे का ट्रेनों का परिचालन अवरूद्ध करते हुए अपना आंदोलन आरंभ किया। आदिवासी सेंगेल अभियान नामक आदिवासी संगठन द्वारा ट्रेनों के परिचालन अवरूद्ध करने आंदोलन में गोसागांव सर्किल के विभिन्न इलाकों से आये आदिवासी समुदाय के लोगों ने हाथ में प्ले कार्ड और बैनर लेकर असम सरकार के विरूद्ध नारेबाजी की।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि सरकार को अनूसूचित जनजाति का दर्जा देना ही पड़ेगा, नो एसटी नो रेस्ट आदि नारों से पूरा इलाका गूंज उठा। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पुलिस और प्रशासन ने उनके साथ ज्याददी है। उन्होंने कहा कि हमारी मांगें नहीं मानी गयी तो आने वाले दिनों में और भी जोरदार आंदोलन किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि ट्रेनों के परिचालन को अवरोध को समाप्त करने के लिये प्रशासन ने कड़े कदम उठाते हुए हल्का बल प्रयोग करते हुए लाठी चार्ज कर प्रदर्शनकारियों को रेलवे ट्रैक से खदेड़ दिया। साथ ही आंदोलन का नेतृत्व करने वाले संगठन के प्रदीप मुर्मू और राजा बेसरा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिसिया कार्रवाई के बाद ट्रेनों का परिचालन फिर से बहाल हो पाया।

Next Story
Share it