Top
Action India

कोरोना टीकाकरण और बाढ़ राहत को लेकर डिप्टी सीएम ने की बैठक

कोरोना टीकाकरण और बाढ़ राहत को लेकर डिप्टी सीएम ने की बैठक
X

पटना। एक्शन इंडिया न्यूज़

बिहार के उप मुख्यमंत्री-सह- मुंगेर जिला के प्रभारी मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने वर्चुअल माध्यम से मुंगेर जिला बाढ़ राहत अनुश्रवण एवं निगरानी समिति की बैठक में बाढ़ से संबंधित की गई तैयारियों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।

उप मुख्यमंत्री ने इस दौरान कोरोना टीकाकरण के लिए किए गए इंतजामों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि मानक संचालन प्रक्रिया के अनुरूप संभावित बाढ़ को लेकर जिला प्रशासन द्वारा तैयारी की गई है।

उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर सर्पदंश एवं एंटी रेबीज की दवाएं निश्चित रूप से उपलब्ध रहें तथा चिन्हि्त शरण स्थलों की जानकारी आम लोगों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों को भी सुलभ कराएं। साथ ही आश्रय स्थलों पर कोविड मार्गनिर्देशों के अनुसार आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जाएं।

उन्होंने कहा कि स्थानीय जन- प्रतिनिधियों के माध्यम से बैठक में प्राप्त सुझावों पर समीक्षोपरांत अनुपालन सुनिश्चित किया जाए तथा संभावित बाढ़ प्रभावित लोगों की सूची को अद्यतन करते समय स्थानीय जनप्रतिनिधियों का भी सुझाव लिया जाए।

उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि नाव की मरम्मति एवं अनुरक्षण के लिए मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित की जानी चाहिए। उन्होंने कोरोना टीकाकरण की समीक्षा के क्रम में निर्देश देते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य शत-प्रतिशत लोगों को टीकाकृत करना है। इसके लिए केंद्र सरकार एवं बिहार सरकार पूरी तत्परता एवं संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है।

उन्होंने बताया कि मुंगेर जिला अंतर्गत 54 टीकाकरण स्थलों को चिन्हि्त किया गया है। 11 टीका एक्सप्रेस को भी संचालित किया गया है। उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि कोरोना टीकाकरण को उत्सवी माहौल में व्यवस्था करने की जरूरत है। अपराह्न 3 बजे से 7 बजे अपराह्न की अवधि में जिले में तीन-चार ऐसे विशेष रुप से सुसज्जित टीकाकरण केंद्र स्थल बनाए जाने चाहिए, जहां लोग इत्मीनान से अपना काम-काज कर के आएं और सहूलियत से टीकाकरण कराकर घर लौटें।

उन्होंने कहा कि पटना जिला के अंतर्गत 24 घंटे संचालित इस प्रकार के टीका केंद्रों पर किए गए प्रयोग काफी सफल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना का टीकाकरण करा कर ही हम कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बच सकते हैं।

वर्चुअल बैठक के दौरान पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि टीकाकरण जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है। पंचायती राज संस्था के लोग इस जन-जागृति अभियान से अधिक-से-अधिक जुड़ें। पंचायती राज संस्था के जनप्रतिनिधि लोगों को कोरोना का टीका लेने के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि सरकार ने अगले 6 माह में 6 करोड़ लोगों को टीकाकृत करने का लक्ष्य रखा है।


Next Story
Share it