Action India
बिहार

आरटीआई कार्यकर्ता के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए सड़क पर लगाया जाम

आरटीआई कार्यकर्ता के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए सड़क पर लगाया जाम
X
  • पत्नी ने आत्मदाह का किया प्रयास

मोतिहारी। एक्शन इंडिया न्यूज़


जिले के हरसिद्धि थाना क्षेत्र अंतर्गत हरसिद्धि बाजार निवासी आरटीआई कार्यकर्ता विपिन अग्रवाल की पत्नी मोनिका देवी ने पति के हत्यारों की तीन सप्ताह बीत जाने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने पर आज बच्चों, परिजनों सहित अन्य लोगों के साथ सड़क पर उतर गई तथा अरेराज- छपवा मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया।

सूचना पर पहुंची पुलिस विपिन के परिजनों को समझाने में जुटी हुई थी। इसी बीच विपिन की पत्नी ने पुलिस के सामने ही आत्मदाह का प्रयास किया तथा ब्लेड से अपने हाथ का नस काट लिया। परिजन डीएम व एसपी को बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं। बताया जा रहा है कि आरटीआई कार्यकर्ता विपिन हत्याकांड में कई सफेदपोश लोग शामिल हैं, जिन्हे पुलिस गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। परिजनो के अनुसार मामले में भाजपा के एक कद्दावर नेता को पुलिस घर से उठाकर थाना ले गई थी। उनसे कई घंटों तक पूछताछ भी की गई लेकिन उनकी गिरफ्तारी नहीं होने से विपिन के परिजन नाराज हैं।

विपिन हत्याकांड में शामिल दो शूटरों की गिरफ्तारी के बाद सिलसिला रूका हुआ है तथा अभी तक इस घटना में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। घटना के बाबत एसपी नवीन चंद्र झा ने कहा भी था कि आरटीआई कार्यकर्ता विपिन अग्रवाल हत्याकांड में शामिल अन्य लोगों की भूमिका की जांच की जा रही है लेकिन पुलिस कार्रवाई अभी तक शिथिल है। इससे विपिन के परिजन खास रूप से नाराज हैं।

उल्लेखनीय है कि विगत 24 सितंबर को जिला के हरसिद्धि ब्लॉक गेट के सामने बाइक सवार अपराधियों ने दिनदहाड़े अंधाधुंध फायरिंग कर आरटीआई कार्यकर्ता विपिन की हत्या कर दी थी। मामले को लेकर आरटीआई कार्यकर्ता विपिन के पिता विजय अग्रवाल ने हरसिद्धि थाना में अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी लेकिन घटना के तीन सप्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस कोई ठोस नतीजा पर नहीं पहुंची है। इससे परिजन क्षुब्ध हैं। हालांकि, पुलिस परिजनों को मनाने में जुटी हुई है।

Next Story
Share it