Action India
बिहार

बिहार में शराबबंदी पर भाजपा विधायक ने उठाए सवाल, कहा- पुलिस कर रही है मनमानी

बिहार में शराबबंदी पर भाजपा विधायक ने उठाए सवाल, कहा- पुलिस कर रही है मनमानी
X
  • बोले- बढ़ गया है ड्रग्स का प्रचलन, बिगड़ रहा है सामाजिक समीकरण, कारोबारी जीत रहे हैं चुनाव

बेगूसराय। एक्शन इंडिया न्यूज़


बिहार में शराबबंदी कानून को लेकर छिड़ी बहस में विपक्ष जहां सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावार है। वहीं, सरकार की सहयोगी भाजपा ने भी विरोध तेज कर दिया है।

भारतीय जनता पार्टी के विधायक हरी भूषण ठाकुर के बाद अब मीडिया सेल के प्रदेश संयोजक और बेगूसराय नगर विधायक कुंदन कुमार ने शराबबंदी कानून की गहन समीक्षा करने की मांग किया है। उन्होंने कहा है कि शराबबंदी के कारण बिहार में ड्रग्स का चलन बढ़ता जा रहा है। हत्या समेत सभी अपराधों में तेजी आई है, बच्चे कैरियर ब्यॉय बनकर शराब की होम डिलीवरी कर रहे हैं, पुलिस शराबबंदी के नाम पर मनमानी कर रही है।

कुंदन कुमार ने कहा है कि पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और झारखंड में जो चीज सही है, वह बिहार में खराब कैसे हो गई, क्या कारण है इसका। शराबबंदी कानून की गहन समीक्षा होनी चाहिए, क्योंकि इस कानून का दुरुपयोग हो रहा है। हाल ही में पटना में आयोजित शादी समारोह में दुल्हन के कमरा में पुलिस घुस गई, यह सामाजिक दृष्टिकोण से किसी हालत में सही नहीं है। मेरा मानना है कि शराबबंदी कानून की आड़ में काफी गलत काम हो रहा है, स्कूल जाने वाले छोटे-छोटे बच्चे कैरियर के रूप में काम कर रहे हैं, इस कानून के चलत चलते आने वाली पीढ़ी बर्बाद हो रही है। 11वीं - 12वीं क्लास के बच्चे कैरियर ब्यॉय हैं, उनके स्कूल बैग में किताब के बीच रखकर शराब की होम डिलीवरी हो रही है। यह पीढ़ी समाज को कहां ले जाएगी, इस गलत कानून के चलते एक पूरा पीढ़़ी बर्बाद होने के कगार पर है। रोज खबर मिलती है कि शराबबंदी के कारण बिहार में ड्रग्स का प्रचलन बढ़ रहा है। जिस समाज में ड्रग्स घुस जाए उसका क्या होता है, यह किसी से छुपा नहीं है, इसके कई उदाहरण देश में मिल जाएंगे। इंजीनियर, डॉक्टर और वकीलों की युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है। इस काले कारनामों के माध्यम से धन कमाए लोग पंचायत चुनाव लड़ रहे हैं तो समाज का क्या होगा। गलत तरीके से धन कमाकर, गैरकानूनी काम करके धन कमाकर बड़ी संख्या में लोग चुनाव लड़ रहे हैं, जीत रहे हैं। अगर ऐसे लोग राजनीति के मुख्यधारा में आ रहे हैं तो यह समाज और सरकार के लिए चिंता का विषय है। शराबबंदी के कारण कई चीजें समाज के बीच से निकल कर आ रहा है।

पूरा प्रशासन शराबबंदी में लगा हुआ है, बाकी जो क्राइम हो रहा है इस पर किसी की नजर नहीं है। कई तरह का गैर कानूनी काम हो रहा है, हत्या में वृद्धि हो गई है, इसको नजरअंदाज किया जा रहा है, और भी कई चीजें हो रही है। इससे भी भारी चिंता का विषय है कि पूरे समाज में एक अलग तरह का गैरकानूनी धंधा पनप गया है। नौजवान क्राइम की ओर अग्रेषित होकर क्रिमिनल बनते जा रहे हैं। कुंदन कुमार ने कहा कि शराबबंदी कानून की गहन समीक्षा कर, इसमें बदलाव नहीं किया गया तो काफी खतरनाक साबित होगा। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

Next Story
Share it