Top
Action India

एक वर्ष से पेयजल के लिए तरस रहे है दो वार्ड के लोग, ग्रामीणों ने कई बार पीएचईडी विभाग से की शिकायत

एक वर्ष से पेयजल के लिए तरस रहे है दो वार्ड के लोग, ग्रामीणों ने कई बार पीएचईडी विभाग से की शिकायत
X

भागलपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़

जिले के अकबरनगर थाना क्षेत्र किसनपुर पंचायत में अधिकांश चापाकल फेल हो चुके हैं। लोगों का एक मात्र मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजना में नल जल योजना के तहत लगने वाले हर घर में नल व पानी की आशा थी। उसमें भी ग्रहण लगा हुआ है। एक साल से अधिक हो चुके अभी तक इस पंचायत के वार्ड 13 व 14 के कुल 2128 लोगों को पेयजल नसीब नहीं हुआ है। जबकि वार्ड 12 व 15 में लोगों को पानी मिल रहा है। वार्ड 13 की आबादी करीब 1209 व वार्ड 14 की आबादी 997 से भी ज्यादा है। यहां पीएचईडी द्वारा नल जल का कार्य होना है। वार्ड में तीन सरकारी चापाकल है। जिससे लोग पानी ला अपनी प्यास बुझा रहे हैं। लोग दूसरे के घर से पानी लाकर नहाते व कपड़ा धोते हैं। इस समस्या से निपटने के लिए कहीं से कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। वार्ड में नल-जल योजना का काम अधर में लटका है। न किसी घर तक सही से कनेक्शन दिया गया है और न ही पानी आपूर्ति हुआ है। करीब तीन सौ लोगों ने पीएचईडी विभाग को इसकी लिखित रूप से शिकायत भी की। लेकिन कुछ नही हुआ।

  • क्या कहते है ग्रामीण

वार्ड संख्या 13 निवासी फूलन देवी, ललिता देवी, मोहन देवी सहित काफी संख्या में ग्रामीणों ने बताया कि शुद्ध पेयजल नहीं मिलने पर हमलोग चापाकल से प्यास बुझा रहें हैं। एक साल बीतने को है पड़ोसी वार्ड में पानी पहुच रहा है लेकिन यहा अभी तक कार्य शुरू भी नही हो सका है। वहीं ग्रामीण राजेश कुमार, परमानंद, नारायण मंडल, विभीषण मंडल, प्रदीप मंडल, अनिल मंडल आदि कहते हैं कि पिछले एक साल से इलाके के लोग पानी के लिए तरस रहे है। सरकारी चापाकल से गंदा व आर्सेनिक युक्त पानी पीने को विवश है। गर्मी के दिनों में पानी नही मिलने से क्षेत्र में हाहाकार मच जाता है।

विभागीय जेई दिनेश कुमार ने बताया कि किसनपुर पंचायत के वंचित दो वार्डों में शुद्ध पेयजल आपूर्ति का संयंत्र दोगच्छी में लगा हुआ है। इस पर काम जल्द ही आरंभ होने वाला है। संयंत्र का कार्य पूरा होने पर वार्ड में पाइप बिछाकर जल्द ही लोगों को पेयजल का लाभ मिल पाएगा।


Next Story
Share it