Top
Action India

रायपुर : राजधानी के जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर, हाथापाई करने वाले जेल प्रहरी पर कार्रवाई की मांग

रायपुर : राजधानी के जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर, हाथापाई करने वाले जेल प्रहरी पर कार्रवाई की मांग
X

रायपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़

छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े सरकारी अम्बेडकर अस्पताल में जेल प्रहरी के द्वारा डाक्टर के साथ हाथापाई के विरोध में जूनियर डॉक्टर्स आज हड़ताल पर है। काम बंद कर सभी जूनियर डॉक्टर डीन कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं।

जुडो संघ का आरोप है कि डीन ने बैठक में कार्रवाई का आश्वासन दिया था, इसके बाद भी मांगों को लेकर अनदेखा किया गया। इसके अलावा अज्ञात नाम से एफआईआर दर्ज कर दी गई। हड़ताल में बैठे जूडो संघ के अध्यक्ष इन्द्रेश यादव ने कहा कि जब तक हाथ उठाने वाले और उसके साथ ही तीनों पुलिसवालों पर कार्रवाई नहीं होती तब तक हड़ताल जारी रहेगा। आज ओपीडी बंद कर हड़ताल कर रहे हैं। कार्रवाई नहीं हुई तो कल से तमाम सेवा बंद कर देंगे। वहीं एफआईआर पर भी एतराज़ जताते हुए कहा कि हम चाहते हैं कि इसमें एफ़आइआर इंस्टीट्यूशनल हो न कि व्यक्तिगत। इस पर कल बात हुई थी। इंस्टीट्यूशनल एफ़आइआर कराए है लेकिन व्यक्तिगत एफ़आइआर दर्ज हुआ है। साथ ही डॉक्टरों की सुरक्षा व्यवस्था पुख़्ता किया जाए।

जुडो अध्यक्ष ने बताया कि डॉक्टर एवं टेक्निशियन से मारपीट हुई है लेकिन एफ़आइआर भृत्य द्वारा कराया गया है क्यों, इस सवाल पर जूनियर डॉक्टरों ने कहा कि प्रबंधन के ख़िलाफ़ भी हमारा हड़ताल है। कल प्रबंधन की ओर से एफ़आइआर करने की बात हुई थी, लेकिन व्यक्तिगत एफआईआर दर्ज किया गया है. इसका विरोध करते हैं। फिलहाल जुडो सदस्य एवं पंडित जवाहर-लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज प्रबंधन के बीच बैठक जारी है।

उल्लेखनीय है कि, सोमवार को बीमार कैदी का इलाज कराने आए जेल प्रहरी ने टेक्नीशियन को थप्पड़ मार दियाम इस घटना से आक्रोशित अस्पताल के कर्मचारियों ने काम बंद कर डीन कार्यालय के सामने कार्रवाई की मांग को लेकर डटे थे। पुलिस के मामले में कार्रवाई के जेल प्रहरी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और अस्पताल में चार अतिरिक्त पुलिस कर्मियों की तैनाती के आश्वासन पर कर्मचारी शांत हुए। दंतेवाड़ा जेल प्रहरी के अंबेडकर अस्पताल में टेक्नीशियन को थप्पड़ मारने का मुद्दा काफी बड़ा हो गया है। अस्पताल के डॉक्टर और कर्मचारी एकजुट होकर कार्रवाई करने पर अड़ गए। आश्वासन के बाद शांत हुए थे। लेकिन थप्पड़ मारने वाले खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है।

Next Story
Share it