Top
Action India

धमतरी : हमाल नहीं आए तो किसानों ने स्वयं तौला धान

धमतरी : हमाल नहीं आए तो किसानों ने स्वयं तौला धान
X

धमतरी। एक्शन इंडिया न्यूज़

समर्थन मूल्य में धान की खरीद समय पर शुरू नहीं होने से नाराज चल रहे हमाल खरीद केंद्र नहीं पहुंचे। लंबे इंतजार के बाद धान बेचने पहुंचे छोटे किसानों ने स्वयं धान की तौलाई कर समर्थन मूल्य में अपना धान बेचा, जबकि बड़े किसान हमालों का इंतजार करते रहे।

धमतरी तहसील के धान खरीद केंद्र खरेंगा में 19 जनवरी को धान की तौलाई करने वाले हमाल नहीं पहुंचे। जबकि समर्थन मूल्य में धान बेचने के लिए सुबह से किसान धान लेकर पहुंच गए थे। 10 बजे उपार्जन केंद्र के प्रबंधक वेदू राम साहू पहुंचे, तो देखा कि हमाल ही नहीं पहुंचे हैं। ऐसे में समर्थन मूल्य में धान की खरीद कर पाना संभव नहीं था। जब किसानों ने खरीद की बात प्रबंधक से की तो हमाल नहीं होने की जानकारी दी। ऐसे में कुछ छोटे किसान धान तौलाई करने तैयार हो गए और तराजू बाट में धान की तौलाई कर अपना धान समर्थन मूल्य में बेच दिया। प्रबंधक ने भी उनके तौलाई से राजी होकर इन किसानों के धान को खरीद लिया। उन्होंने कहा कि धान की तौलाई करने वाले इन किसानों को उनकी मेहनताना अलग से दिया जाएगा। जबकि समर्थन मूल्य में धान बेचने पहुंचे बड़े किसान हमालों के पहुंचने का इंतजार दोपहर तक करते रहे, लेकिन वे नहीं पहुंचे। ऐसे में बड़े किसान अपना धान नहीं बेच पाए। इससे इन किसानों में आक्रोश भी बना रहा।

समय को लेकर हमालों के नाराज चलने की चर्चा धान खरीदी केंद्र खरेंगा में प्रबंधक के समय पर केंद्र नहीं पहुंचने की चर्चा है। वह हर रोज सुबह 11 बजे केंद्र पहुंचते हैं जबकि हमाल सुबह आठ बजे से पहुंच जाते हैं। प्रबंधक के आने के बाद ही धान खरीद शुरू होती है। ऐसे में समय पर धान खरीद नहीं होने के कारण हमालों को देर रात 11 बजे तक धान को व्यवस्थित करने में समय लग जाता है। इससे नाराज हमाल 19 जनवरी को खरीद केंद्र नहीं पहुंचे। क्षेत्र के किसानों में इस तरह की चर्चा हो रही है। जबकि प्रबंधक वेदू राम साहू का कहना है कि ऐसी कोई बात नहीं है।


Next Story
Share it