Action India
अन्य राज्य

रायपुर: दोपहर से देर शाम तक झमाझम बारिश, पानी-पानी हुआ सुकमा

रायपुर: दोपहर से देर शाम तक झमाझम बारिश, पानी-पानी हुआ सुकमा
X

रायपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में दोपहर से देर शाम तक भारी बारिश हुई है।इस दौरान जमकर बिजली भी चमकी । बारिश के चलते शहर के कई इलाके तालाब में तब्दील हो गए हैं। वहीं, भारी बारिश के चलते विमान सेवा भी प्रभावित हुई है। समाचार लिखे जाने तक तीन विमानों को लैंडिंग की अनुमति नहीं मिली है।मूसलाधार बारिश के बाद सदर के सत्ती बाजार तालाब में तब्दील हो गया है। साथ ही शहर के कई सड़को और निचली बस्तियों में पानी भर गया है।

राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक 1 जून 2021 से अब तक राज्य में 930.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 13 सितम्बर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार सुकमा जिले में सर्वाधिक 1311.4 मिमी और महासमुंद जिले में सबसे कम 696.1 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

रायपुर स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, प्रदेश के कोरिया, सूरजपुर, सरगुजा, जशपुर, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, कोरबा, बलौदा बाजार, मुंगेली, कबीरधाम, बेमेतरा, बिलासपुर, सुकमा, बीजापुर और उनसे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने और भारी वर्षा होने की संभावना है। यह चेतावनी राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण केंद्र, जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता और दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक और क्षेत्रीय प्रबंधक को भी भेजी गई है।

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया, 'कल सुस्पष्ट चिन्हित निम्न दाब का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में था, वह आज अत्यधिक प्रबल हो गया है। तटीय ओडिशा के आसपास से यह पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसके अगले 24 घंटे में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए उत्तर ओडिशा, उत्तर छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की ओर अगले 48 घंटे तक आगे बढ़ने की सम्भावना है।'

मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि दबाव का क्षेत्र अगले 48 घंटों में पश्चिम-उत्तर पश्चिम दिशा में उत्तर ओड़िशा, उत्तर छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की ओर बढ़ सकता है। विभाग ने ओड़िशा के संबलपुर, देवगढ़, सोनपुर और बारगढ़ के लिए 'रेड' चेतावनी जारी की है ।कल प्रदेश के अधिकांश जिलों में बरसात हुई है। बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसुमी-सामरी में सबसे अधिक 92 मिलीमीटर बरसात दर्ज हुई। बस्तर के कटेकल्याण में 75.2 मिमी, गरियाबंद के छुरा में 74.1 मिमी और राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में 67.3 मिमी बरसात हुई। दुर्ग के पाटन में 62 मिमी, मुंगेली के पथरिया में 50 मिमी, बस्तर में बस्तानार में 49.3 दंतेवाड़ा के गीदम में 48.6, बलरामपुर में 43.8 और दंतेवाड़ा के बड़े बचेली में 39.7 मिमी बरसात हुई है।

Next Story
Share it