Action India

60 घंटे संपूर्ण कर्फ्यू के पहले दिन पसरा सन्नाटा, लोगों ने दिया भरपूर योगदान

60 घंटे संपूर्ण कर्फ्यू के पहले दिन पसरा सन्नाटा, लोगों ने दिया भरपूर योगदान
X

कठुआ । एक्शन इंडिया न्यूज़

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच जम्मू कश्मीर में सख्ती बढ़ाई गई है। जम्मू कश्मीर के जिला कठुआ में शुक्रवार 7 मई की रात 7 बजे से सोमवार 10 मई की सुबह 6 बजे तक संपूर्ण कर्फ्यू का ऐलान किया गया है। जिला कठुआ में पहले दिन शनिवार को संपूर्ण कर्फ्यू पूरी तरह से सफल रहा। शहर से लेकर तहसील व कस्बों में पूरी तरह से सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा।

केवल मेडिकल स्टोर की दुकानें खुली रही, न कोई रेहड़ी फड़ी वाला दिखाई दिया, न ही कोई दुकान खुली। जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार सुबह 7 बजे से लेकर दोपहर 11बजे तक जरूरी सामान की दुकानें खुली, जिसमें लोगों ने दिनचर्या में इस्तेमाल होने वाली बस्तुएं खरीदी और बाद में फिर से घरों में बंद हो गए।

लोगों ने कोरोना की चेन तोड़ने के लिए योगदान देते हुए लगातार दो दिनों तक घरों में रहने का मन बनाया है। इसी बीच पुलिस की मौजूदगी चैराहों पर बनी रही। लेकिन लोग खुद ही अपने आप को सुरक्षित करते हुए घर पर सुरक्षित तरीके से रहे। इसकी वजह से पुलिस को भी संपूर्ण कर्फ्यू का पालन कराने में कोई दिक्कत नहीं आई।

इसी बीच कुछ लोग जरूरी काम के लिए बाहर निकले थे, जिन्हें पुलिस कारण पूछकर छोड़ रही थी, लेकिन बेवजह बाहर निकलने वालों पर पुलिस ने सख्ती बरती और चालान भी किए।

कोरोना के बेकाबू होते हालात को देखते हुए केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर सरकार ने हर जिला के डीसी को अपने जिले के बढ़ते मामलों के अनुसार पाबंदियां लगाने के निर्देश दिए हैं। जिसमें चलते जिला कठुआ प्रशासन द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार जिला में पांच दिन ही दुकाने खुलेंगी और बाकी दो दिन को संपूर्ण कर्फ्यू रहेगा।

इस संपूर्ण कर्फ्यू का शनिवार को पहला दिन था। इसको लेकर कठुआ पुलिस काफी सतर्क थी। लेकिन लोग बहुत ही जिम्मेदार थे, लोगों ने संपूर्ण कर्फ्यू के पहले दिन का पूरे तरीके से पालन किया। लोग बेवजह घर से बाहर निकले ही नहीं। जिसकी वजह से जिलेभर में सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। पुलिस ने भी किसी को बेवजह परेशान नहीं किया।

सड़क पर निकलने वालों को रोका, उनसे पूछताछ की। जब इन लोगों ने अस्पताल व दवाई लेने सहित अन्य जरूरी काम बताए तो पुलिस ने भी उनको जाने दिया। सुबह से सड़कों पर शुरू हुआ सन्नाटा देर रात तक जारी रहा। जिला कठुआ की तहसील बिलावर, हीरानगर, बसोहली, बनी, नगरी सहित सभी जगहों पर पहले दिन पूरी तरह से संपूर्ण कर्फ्यू रहा।

Next Story
Share it