Action India

'दो बूंद जिंदगी के' अभियान शुरू, जिला विकास आयुक्त द्वारा बच्चे को पोलियो बूंद पिलाकर हुई अभियान की शुरुआत

दो बूंद जिंदगी के अभियान शुरू, जिला विकास आयुक्त द्वारा बच्चे को पोलियो बूंद पिलाकर हुई अभियान की शुरुआत
X

कठुआ। एक्शन इंडिया न्यूज़

पोलियो नेशनल इम्यूनाइजेशन डे रविवार 31 जनवरी को आरंभ हो गया है, जहां 5 साल से कम उम्र के बच्चों को इस बीमारी को दूर रखने के लिए दो बूंदे दी जा रही हैं। इसी क्रम में तीन दिवसीय पोलियो अभियान जिला कठुआ में भी शुरू किया गया है। इस अवसर पर कठुआ के महात्मा गांधी अस्पताल में जिला उपायुक्त ओम प्रकाश भगत द्वारा बच्चे को पोलियो बूंद पिलाकर इस अभियान की शुरुआत की गई।

इसी बीच जिला उपायुक्त ओम प्रकाश भगत ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि आज देश भर में पोलियो बूंद पिलाने का अभियान चलाया जा रहा है। इसी में जिला कठुआ में भी इसकी शुरुआत की गई है। उन्होंने बताया के वर्ष 2011 के बाद आज तक जम्मू-कश्मीर प्रदेश में कोई भी पोलियो से प्रभावित नहीं पाया गया है, लेकिन फिर भी अपने देश के हर एक बच्चे को इस बीमारी से निजात दिलवाने के लक्ष्य से यह अभियान देशभर में जारी है। उन्होंने बताया कि 31 जनवरी 2021 के दिन देशभर में 21वां वर्ष इस अभियान के लिए पूरे हो गए हैं। उन्होंने बताया कि बीते 17 जनवरी को इस अभियान को चलाया जाना था लेकिन कोरोना वैक्सीन टीकाकरण अभियान शुरू होने के चलते इसे रद्द कर दिया गया था, जिसे 31 जनवरी को शुरू किया गया है। वही जिला चिकित्सा अधिकारी डॉ अशोक चैधरी ने बताया कि 31 जनवरी 2021 को देश भर में पोलियो बूंद पिलाने का अभियान चलाया जा रहा है, इसी क्रम में जिला कठुआ में भी इस अभियान को शुरू किया गया है। उन्होंने बताया की इस अभियान को कामयाब बनाने के लिए उन्होंने 101700 बच्चों को पोलियो बूंद पिलाने का लक्ष्य रखा है। जिसमें जिले भर में 580 बूथ बनाए गए हैं और इन 580 बूथ पर 2520 कर्मचारी तैनात किए गए हैं, जो इस पोलियो दवा पिलाने के अभियान का संचालन करेंगे। उन्होंने बताया कि 31 जनवरी को 580 बूथों पर पोलियो दवा पिलाई जा रही है और अगले 2 दिन के लिए डोर टू डोर इस अभियान को चलाया जाएगा। इसी प्रकार इस अभियान को कामयाब बनाने के लिए 10 ट्रांजिट टीमें बनाई गई हैं, जबकि 14 मोबाइल टीमें बनाई गई हैं। ट्रांसिट टीमों में तैनात कर्मचारी यात्रा कर रहे लोगों के बच्चों को दवाई पिलाएंगे और 14 मोबाइल टीमों में तैनात कर्मचारी जिले भर के स्लम एरिया में जाकर बच्चों को पोलियो दवाई पिलाएंगे, ताकि जिले भर में कोई भी बच्चा पोलियों का शिकार ना हो सके। इस अवसर पर एएसपी रमनीष गुप्ता सहित चिकित्सा अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।


Next Story
Share it