Action India

मैं जब भी कश्मीर आता हूं, ऐसा लगता है कि अपने घर आ गया हूं: राहुल गांधी

मैं जब भी कश्मीर आता हूं, ऐसा लगता है कि अपने घर आ गया हूं: राहुल गांधी
X

श्रीनगर। एक्शन इंडिया न्यूज़

दो दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंचे राहुल गांधी ने मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मैं केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ लड़ता रहूंगा।

एमए रोड श्रीनगर में नवनिर्मित कांग्रेस भवन का उद्घाटन करने के बाद राहुल गांधी ने प्रदेश की जनता से कहा कि मैं भले ही जम्मू-कश्मीर में नहीं रहता लेकिन मैं आप लोगों को समझता हूं। मेरे पुरखों को झेलम से पानी जरूर मिला होगा, आपके रीति-रिवाज और आपकी संस्कृति भी मेरे साथ है। उन्होंने कहा कि जब भी मैं कश्मीर आता हूं तो मुझे लगता है कि मैं अपने घर आ गया हूं। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि जो प्यार से हासिल किया जा सकता है, वह नफरत से नहीं किया जा सकता।

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा भारत में सभी संस्थानों पर हमले हो रहे हैं, लोकतांत्रिक संविधान पर भी हमला हो रहा है। जम्मू-कश्मीर पर सीधा हमला हो रहा है जबकि बाकी देश परोक्ष रूप से उसी हमले की चपेट में हैं। उन्होंने कहा कि जब हम सरकार में थे तो देश के बाकी हिस्सों के साथ कश्मीर के लोगों को भी साथ लेकर चलते थे। हमने प्यार से सब कुछ आजमाया। उन्होंने कहा कि हम उन ताकतों के खिलाफ लड़ेंगे, जो देश को बांटना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि जल्द से जल्द जम्मू कश्मीर को राज्य का दर्जा एक बार फिर मिल जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं जम्मू-कश्मीर के लिए पूर्ण राज्य का दर्जा और निष्पक्ष चुनाव की मांग करता हूं।

इसके बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि राज्य को दो भागों में विभाजित किया गया है और केंद्र शासित प्रदेश में बदल दिया गया। इस दौरान 16 हजार 500 लोगों को जेलों में डाला गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमें भूमि जैसे कुछ और अधिकारों की सुरक्षा की आवश्यकता है। उन्होंने मांग की कि एक विधेयक संसद में पेश किया जाना चाहिए और पारित किया जाना चाहिए।


इससे पहले राहुल गांधी ने मंगलवार सुबह खीर भवानी माता के दर्शन किए और इसके बाद राहुल ने डल झील किनारे स्थित हजरतबल दरगाह में माथा टेका।

Next Story
Share it