Action India

'व्यापारी वर्ग के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जाए: वजीर'

व्यापारी वर्ग के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जाए: वजीर
X

उधमपुर/कटडा। एक्शन इंडिया न्यूज़

देश भर में बढ़ रहे कोरोना मामलों का असर वैष्णो देवी यात्रा पर देखने को मिल रहा है। जम्मू कश्मीर सहित बाहरी राज्यों में कोरोना मामले बढ़ने के चलते वैष्णो देवी यात्रा में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। आलम यह है कि मौजूदा समय में प्रतिदिन 400 के करीब श्रद्धालू ही दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। यात्रा में इस कदर गिरावट के चलते स्थानीय व्यापारी काफी परेशान है। क्योंकि कोरोना महामारी के चलते उनका व्यापार पूरी तरह से ठप हो चुका है।

इस संबंध में बात करते हुए होटल एसोसिएशन के प्रधान राकेश वजीर ने कहा कि कटड़ा पूरी तरह से वैष्णो देवी यात्रा पर निर्भर है, ऐसे हालातों में जम्मू कश्मीर सरकार को चाहिए कि कटडा के व्यापारियों के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की जाए। उन्होंने कहा कि पहले ही पिछले साल की कोरोना महामारी के दौरान कटडा के व्यापारियों की कमर टूट चुकी थी। जिसके बाद नवम्बर, दिसम्बर 2020 में कुछ हालात सामान्य होने से कटड़ा के व्यापारियों को कुछ राहत मिली थी। पर जारी वर्ष की मार्च अंत में कोरोना महामारी के दूसरे दौर ने कटडा के व्यापारियों को फिर काफी हद तक प्रभावित किया है।

उन्होंने जम्मू कश्मीर के उपराज्पाल से मांग करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर सरकार द्वारा कटड़ा के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की जाए। ताकि हालात सामान्य होने के बाद कटड़ा के व्यापारी उस पैकेज का लाभ लेकर अपने कारोबार को फिर से शुरू कर सकें।

वही इन हालातों पर बात करते हुए होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष श्याम लाल केसर ने कहा कि हालात दिन-व-दिन खराब हो रहे हैं। ऐसे में सरकार द्वारा हाल ही में ट्रेनों को रद्द करने का लिया गया फैसला सही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा कोरोना महामारी से लड़ने के लिए हर उचित उठाया जाना चाहिए।

वहीं उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर सरकार को कटडा में कार्य करने वाले छोटे-बड़े सैंकड़ों व्यापारियों को भी ध्यान रखना चाहिए। ताकि उन्हें अपने परिवार के पालन-पोषण में कोई परेशानी ना आए।

मौजूदा हालातों पर बात करते हुए चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रधान विरेंद्र केसर ने कहा कि कटडा के हर छोटे-बड़े व्यापारी ने बैंकों से ऋण लिया हुआ है। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात व व्यापार ठप होने के कारण इन व्यपारियो को बैंकों की किस्त अदा करने में भी काफी परेशानी आ रही है। उन्होंने जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल से मांग करते हुए कहा कि बैंकों को निर्देश दिए जाने चाहिए कि कटडा के व्यपारियों को अपनी बैंक की ईण्एमण्आई बारे में कुछ समय दिया जाए। वहीं उन्होंने यह भी मांग की कि बैंकों द्वारा इन व्यापारियों के लोन पर लगाए जा रहे ऋण में भी कुछ रियायत दी जानी चाहिए।

Next Story
Share it