Action India
झारखंड

केंद्र सरकार उपेक्षित, वंचित, गरीब, किसान और पिछड़ों के विकास के लिए सबसे अधिक कार्य कर रही है : रघुवर दास

केंद्र सरकार उपेक्षित, वंचित, गरीब, किसान और पिछड़ों के विकास के लिए सबसे अधिक कार्य कर रही है : रघुवर दास
X

रांची । एक्शन इंडिया न्यूज़

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले छह वर्षों में केंद्र सरकार उपेक्षित, वंचित, गरीब, किसान और पिछड़ों के विकास के लिए सबसे अधिक कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि झारखंड के पांच वर्ष के कार्यकाल में हमारी सरकार ने भी अनुसूचित जाति समाज के उत्थान के लिए कई कार्य किए थे। वहीं राष्ट्र विरोधी शक्तियां अनुसूचित जाति समाज को तोड़ने का प्रयास कर रही है। इसके लिए हम सभी को सचेत रहने की जरूरत है।

रघुवर दास शुक्रवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि राष्ट्र विरोधी शक्तियों के प्रति समाज के लोगों को जागरूक करना की जिम्मेदारी भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के पदाधिकारियों व सदस्यों की है। साथ ही वे समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे और केंद्र सरकार की योजनाओं की जानकारी दें। उन्हें विकास की मुख्यधारा में लाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ दिलाये।

दास ने कहा कि पिछले पांच साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान योजना, उज्ज्वला योजना समेत कई योजनाएं गरीबों को ध्यान में रखकर पेश की है। इसका लाभ अनुसूचित जाति के लोगों को मिला है। वहीं झारखंड में पिछले 13 महीनों में हेमंत सरकार ने विकास कार्यों को पूरी तरह से ठप कर दिया है। राज्य में धर्मांतरण तेजी से बढ़ गया है। मोर्चे की जिम्मेदारी ऐसी स्थिति में और बढ़ जाती है। कुछ लोग बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की फोटो को आगे कर समाज के लोगों को गुमराह करने का कार्य कर रहे हैं, जबकि बाबा साहब ने हमेशा भारत को आगे बढ़ाने का आह्वान किया था।

वहीं कुछ राष्ट्र विरोधी शक्तियां बाबा साहब के नाम पर राजनीति कर बाबा साहब के विचारों के विरुद्ध काम कर रही हैं। रघुवर दास ने कहा कि राज्य में अनुसूचित जाति के लोगों की सरकार को बिल्कुल भी चिंता नहीं है। कसमार, नवाडीह, धनबाद समेत कई क्षेत्रों में भूख से मौतें हुई है, लेकिन सरकार कुछ नहीं कर रही है। वहीं भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने इन मामलों को उठाया आंदोलन किया, जिसके चलते सरकार को जागना पड़ा है।

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने राज्य अनुसूचित जाति मोर्चा का गठन किया था। लेकिन इस सरकार में पिछले 13 महीने में आयोग के विस्तार के लिए कोई कार्य नहीं किया है, जिससे अनुसूचित जाति समाज के विकास के लिए कोई कार्य नहीं हो पा रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य में जाति प्रमाण पत्र नहीं बन रहे हैं, इससे काफी परेशानी हो रही है। मोर्चा के पदाधिकारी मुख्य सचिव से मिले और उनसे इस संबंध में आग्रह करें क्योंकि हमारा कार्य सरकार को सकारात्मक सहयोग देना है। फिर भी सरकार अगर नहीं जागे, तब आंदोलन कर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के नाम पर राजनीति करने वाले दलों ने बाबा साहब को कभी सम्मान नहीं दिया। श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेई की सरकार ने उन्हें भारत रत्न दिया। इस कार्य को आगे देश के लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बढ़ाया। मोदी सरकार बाबा साहब से जुड़े स्थानों का पुनरुद्धार कर उनके विचारों को आगे बढ़ा रही है। हमें बाबा साहब के नाम पर राजनीति करने वाले दलों से सचेत रहने की आवश्यकता है और जो झूठ और सब भ्रम फैलाया जाता है। उसे भी समाज को बचाने की जरूरत है।

कार्यक्रम में अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अमर बाउरी, विधायक किशन दास सहित आदि उपस्थित थे।

Next Story
Share it