Action India
झारखंड

भाजपा के लिए शर्म की बात है कि उन्हीं के मंत्री सरयू राय आपनी ही सरकार के घोटाले को ला रहे हैं सामने : कांग्रेस

भाजपा के लिए शर्म की बात है कि उन्हीं के मंत्री  सरयू राय आपनी ही सरकार के घोटाले को  ला रहे हैं सामने : कांग्रेस
X

रांची। एक्शन इंडिया न्यूज़

झारखंड कांग्रेस ने कहा है कि यह भी एक विडंबना है कि भाजपा के पूर्व वरिष्ठ नेता और रघुवर सरकार में मंत्री रहे सरयू राय आपनी ही सरकार को समय-समय पर कटघरे में खड़ा करते रहे हैं । उन्होंने मेनहर्ट घोटाले को अपनी पुस्तक के द्वारा उजागर किया है। अब एक बार फिर रघुवर सरकार के खनन विभाग के घोटालों को अपनी किताब अवैध आवंटन व अवैध खनन के माध्यम से उजागर करने जा रहे हैं। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता एम तौसीफ ने बुधवार को कहा कि भाजपा के लिए बड़े ही शर्म की बात है कि उनकी ही सरकार के मंत्री भाजपा सरकार की गलत नीतियों एवं किए गए घोटालों को लगातार जनता के सामने ला रहे हैं। तौसीफ ने कहा कि सरयू राय जब सरकार में थे। उस समय सरकार को गाहे-बगाहे चेताया करते थे लेकिन उनकी बातों को नजरअंदाज करते हुए भाजपा की रघुवर सरकार ने अपने करीबियों को लाभ पहुंचाने के लिए नियम का उल्लंघन किया। घोटाला करने के लिए खुली छूट दे दी। सरयू राय की खनन आवंटन व अवैध खनन पर जब किताब प्रकाश में आएगी तो और भी कई चीजें सामने आएंगे।

रघुवर सरकार की घोटालों की लंबी फेहरिस्त का खुलासा होगा। तौसीफ ने कहा है कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश केंद्र सरकार के द्वारा बनाए गए जुमले को दोहरा कर अपनी ही सरकार का माखौल उड़ा रहे हैं। केंद्र सरकार द्वारा स्टार्टअप इंडिया, मेक इन इंडिया यह दोनों जुमले बोलने में भले ही खूबसूरत लगते हैं लेकिन जुमले ही साबित होकर रह गये। युवाओं के लिए नए अवसर खड़ा करने की बात करने वाले भाजपा के नेता जरा यह तो बताएं की मोदी सरकार में लाखों की संख्या में युवा बेरोजगार हो चुके हैं ।अगर स्टार्टअप इंडिया और मेक इन इंडिया कहीं धरातल पर होता तो शायद युवा बेरोजगार नहीं होते। उन्होंने आरोप लगाया कि यूपीए के द्वारा दिए गए रोजगार को भी केंद्र की भाजपा सरकार ने युवाओं से छीन लिया। बेरोजगारी आज चरम सीमा पर है।

  • भाजपा केवल बात बनाकर कर युवाओं को संतुष्ट करना चाहती है लेकिन अब इनके शब्दों के जाल और चाल को युवा समझ चुके हैं ।

भाजपा की केंद्र सरकार ने छह सालों में युवाओं, गरीबों, मजदूरों एवं किसानों के हित में कोई ऐसा काम नहीं किया जिससे लाभ पहुंचा हो बल्कि पूंजी पतियों के लिए तरह-तरह के कानून बनाकर उनको फायदा पहुंचाया जा रहा है।


Next Story
Share it