Action India
झारखंड

झामुमो ने केंद्र सरकार पर लगाया भेदभाव का आरोप

झामुमो ने केंद्र सरकार पर लगाया भेदभाव का आरोप
X

रांची। एक्शन इंडिया न्यूज़

झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने केंद्र सरकार पर झारखंड के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया है। झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने बुधवार को प्रेस वार्ता में कहा कि हूल क्रांति के नायक सिद्धू कान्हू, चांद भैरव आदि ने ब्रिटिश सत्ता के खिलाफ जल, जंगल, जमीन के लिए संघर्ष किया था। तब लोगों ने ब्रिटिश सत्ता का अत्याचार देखा था और अब केंद्र की भाजपा सरकार का अत्याचार देख रहे हैं। आज के नए हुक्मरान झारखंड के साथ जिस तरीके का व्यवहार कर रहे हैं उसके खिलाफ भी एक हूल या उलगुलान जारी है।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में केंद्र का मैनेजमेंट पूरी तरह से फेल रहा। केंद्र ने कहा था कि भारत में सबसे बड़ा वैक्सीनेशन अभियान चलेगा। लेकिन आज हालात सबके सामने हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि झारखंड को बार-बार ठगा गया है। ना केवल पैसों से बल्कि वैक्सीनेशन के मामले में भी ठगा गया है। हमें 90 लाख डोज चाहिए। प्रतिदिन वैक्सीनेशन के लिए तकरीबन तीन लाख डोज चाहिए लेकिन 89 हजार डोज बीते माह भेजा गया। उन्होंने कहा कि झारखंड ने खनिज संपदा, मानव संसाधन, जैव संसाधन और कृषि संपदा के तौर पर देश के विकास में योगदान दिया। बावजूद इसके राज्य के साथ भेदभाव किया जाता है।


Next Story
Share it