Action India

मैं भी करता हूं अपना मूल्यांकन : मुख्यमंत्री शिवराज

मैं भी करता हूं अपना मूल्यांकन : मुख्यमंत्री शिवराज
X

भोपाल। एक्शन इंडिया न्यूज़

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम प्रदेश के विकास और जनता के कल्याण के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें। मैं भी अपना मूल्यांकन करता हूं। काम में कहीं कोई कसर रह गई तो हम प्रदेश का अहित करने का पाप करेंगे। उन्होंने यह बातें सोमवार को मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी कमिश्नर, पुलिस महानिरीक्षक, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षकों से चर्चा करते हुए कही। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर्स, कमिश्नर्स, पुलिस अधीक्षकों और पुलिस महानिरीक्षकों के साथ बैठक में कहा कि उनतीस दिन काम और तीसवें दिन मूल्यांकन है ये कॉन्फ्रेंस। ये सुशासन का आधार है। कोई मुख्यमंत्री लगातार हर महीने सुबह से लेकर रात तक ऐसी कॉन्फ्रेंसिंग में चर्चा नहीं करता होगा। लेकिन मैं मानता हूं कि सुशासन और प्रभावी ढंग से हम काम कर सकें उसका उपकरण है ये कॉन्फ्रेंस, इसलिये ये मेरे लिये बहुत महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी कहा है, फिर दोहरा रहा हूं कि हम प्रदेश के विकास और जनता के कल्याण के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें। मैं भी अपना मूल्यांकन करता हूं। काम में कहीं कोई कसर रह गई तो हम प्रदेश का अहित करने का पाप करेंगे। मैं सभी को बराबर मानता हूं। जो अच्छा काम करेगा, हम उसकी पीठ थपथपायेंगे। अच्छा काम करने वालों की हमें, प्रदेश को जरूरत है। जो परफॉर्म नहीं करेगा उसको अधिकार ही नहीं है कि इन पदों पर रहकर काम करे। मेरा प्रयास निष्पक्ष मूल्यांकन का है, उसके आधार पर हम आगे बढ़ते हैं।

Next Story
Share it