Top
Action India

अशोकनगर स्टेशन पर नये ओवरब्रिज का कार्य तेजी पर, तीन और नए ब्रिज बनाने की तैयारी

अशोकनगर। एक्शन इंडिया न्यूज़

पश्चिम-मध्य रेल खण्ड के बीना-कोटा रेल दोहरीकरण के तेजी से चल रहे अंतिम चरण के कार्य के बीच बीना-अशोकनगर रेलवे स्टेशनों के बीच नए प्लेट फार्मों का विस्तार भी तेजी से किया जा रहा है। इसी श्रंखला में अशोकनगर रेलवे स्टेशन पर तीसरे नए प्लेट फार्म के विस्तार कार्य के साथ ही एक नए ओवरब्रिज का निर्माण कार्य भी तेजी से शुरू कर दिया गया, जो अगस्त माह तक पूर्ण होने की संभावना आरबीएनएल द्वारा जताई गई।

एक जानकारी अनुसार यहां नए ओवरब्रिज की डिजाइनिंग पूना और अहमदाबाद में की जा रही है। जिसको लेकर यहां दूसरे-तीसरे प्लेट फार्म पर फाउंडेसिग कार्य तेजी से किया जा रहा है।

दोनों तरफ रेैम्प और बीच में होगी लिफ्ट:

यहां तीसरे प्लाट फार्म विस्तार के साथ ही नए ओवर ब्रिज को एक और तीन नम्बर प्लेट फार्म के दोनों तरफ बाहर की ओर रेल परिसर में रैम्प के रूप में उतारने की रेलवे की योजना है। वहीं एक और दो-तीन नम्बर प्लेट फार्म पर ब्रिज में सीढिय़ों के साथ लिफ्ट व्यवस्था दी जाने की योजना रेलवे की है।

जानकारी अनुसार दोनों ओर प्लेट फार्म के बाहर रेल परिसर में जहां ब्रिज को रैम्प के रूप में उतारने की तैयारी हैं, वहीं दोनों तरफ ब्रिज के रैम्प क्षेत्र के रेल परिसर में आसपास बड़े स्तर पर विस्तार करने की योजना भी रेलवे द्वारा जतलाई गई है। आरबीएनएल द्वारा यहां नए ओवर ब्रिज निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है, रेलवे की योजना है कि बारिश शुरू होने से पूर्व ही ओवरब्रिज के चारों फाउंडेसिंग कार्य पूर्ण हो जाएं, ताकि फिर फाउंडेसिंग के ऊपर ब्रिज लॉचिंग का कार्य शेष रह जाएगा, जिसे अगस्त माह तक पूरा कराने की रेलवे की योजना है।

रेहटवास,पिपरई,मुंगावली में भी बनेंगे ओवरब्रिज:

रेल दोहरीकरण के साथ अशोकनगर में नए प्लेट फार्म और नए ओवरब्रिज की तरह अशोकनगर से बीना स्टेशन के बीच रेहटवास, पिपरई और मुंगावली स्टेशन पर भी रेलवे की नए ब्रिज बनाने की योजना है, पर फिलहाल इन तीनों स्टेशनों पर बनने बाले ओवर ब्रिजों की अभी डिजाइनिंग कार्य होना है, जिसके पश्चात ही आगे के कार्य को अमल में लाया जाएगा।

इसी साल बीना-कोटा रेल लाइन दोहरीकरण पूरा होने का लक्ष्य:

पश्चिम-मध्य रेल खण्ड के बीना-कोटा रेल लाइन दोहरीकरण कार्य अपने अंतिम चरण में चल रहा है। जो कि रुठियाई से कोटा के बीच जहां कुछ स्थानों पर अंतिम चरण में है, वहीं रुठियाई-बीना के बीच केबल ओर स्टेशन से कंजिया स्टेशन तक शेष कार्य तेजी से किया जा रहा है। इस प्रकार बीना-कोटा 290 किमी सम्पूर्ण रेल खण्ड पर इसी वर्ष रेल दोहरीकरण का कार्य रेलवे द्वारा पूर्ण करने की तैयारी है।


Next Story
Share it