Action India
महाराष्ट्र

मध्य रेल ने 15 दिनों में टिकट चेकिंग से 2.94 करोड़ रुपये राजस्व प्राप्त किया

मध्य रेल ने 15 दिनों में टिकट चेकिंग से 2.94 करोड़ रुपये राजस्व प्राप्त किया
X

मुंबई। एक्शन इंडिया न्यूज़

मध्य रेल के मुंबई मंडल ने बिना टिकट यात्रियों पर अंकुश लगाने के लिए उपनगरीय एवं गैर उपनगरीय ट्रेनों में बिना टिकट और अनियमित यात्रा के खिलाफ सघन व लगातार टिकट चेकिंग अभियान चलाया है। साथ ही कोविड-19 से बचाव के लिए मास्क पहनना भी सुनिश्चित करने की सार्थक पहल की है। मध्य रेल को इस वित्तीय वर्ष के पहले 9 महीनों में सभी क्षेत्रों में टिकट चेकिंग के माध्यम से सबसे अधिक राजस्व अर्जित करने का गौरव प्राप्त हुआ है।

मध्य रेल मुंबई के जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, मध्य रेल के मुंबई मंडल ने जनवरी-2022 के पहले 15 दिनों में बिना टिकट व अनियमित यात्रा के 58,334 मामलों से 2.94 करोड़ रुपये जुर्माने के रूप में वसूल किए हैं। इसके अलावा, इसी अवधि के दौरान बिना मास्क वाले 715 यात्रियों को पकड़ा गया और जुर्माने के रूप में 1.44 लाख रुपये वसूल किए गए। इस वित्तीय वर्ष के दौरान दिनांक 01.04.2021 से 15.1.2022 तक मुंबई मंडल में बिना टिकट व अनियमित यात्रियों के कुल 10.12 लाख मामले पकड़े गए, जिनसे 51.31 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूल किया गया।

उपनगरीय ट्रेनों के महिला कोचों में यात्रा करने वाले पुरुष यात्रियों व हॉकरों के खिलाफ आरपीएफ व टिकट चेकिंग स्टाफ के संयुक्त विशेष अभियान में 14 जनवरी से 16 जनवरी 2022 तक पुरुष यात्रियों से जुड़े 188 मामले पकड़े गए और 1,28,070 रुपये की राशि जुर्माने के स्वरूप वसूल की गई। साथ ही 23 हॉकरों को पकड़ा गया और रेलवे अधिनियम की धारा 144 के तहत अभियोजन के लिए आरपीएफ को सौंपा गया।

Next Story
Share it