Action India
महाराष्ट्र

नवाब मलिक का आरोप- एनसीबी ने तीन मामलों में अपने करीबी को गवाह बनाया

नवाब मलिक का आरोप- एनसीबी ने तीन मामलों में अपने करीबी को गवाह बनाया
X

मुंबई। एक्शन इंडिया न्यूज़


महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक कार्य मंत्री एवं राकांपा के प्रवक्ता नवाब मलिक ने नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर करीबी मित्रों की मिलीभगत से फिल्म जगत के लोगों से अवैध वसूली का आरोप लगाया है। मलिक ने कहा कि उन्हें अब तक की जानकारी के अनुसार वानखेड़े ने तीन मामलों में अपने करीबी फ्लेचर पटेल को गवाह बनाया है। फ्लेचर पटेल खुद समीर वानखेड़े का मीडिया मैनेजमेंट देखते हैं।

नवाब मलिक ने शनिवार को पत्रकारों से कहा कि एऩसीबी ने मामला क्रमांक 16/20, 38/20 और 2/21 में गवाह बनाया है। यह तीनों छापे अंधेरी और मुंबई सेंट्रल आदि इलाकों में मारे गए। इस संदर्भ में दादर निवासी फ्लेचर पटेल को गवाह बनाया गया है। मलिक ने कहा कि कानूनन गवाह जहां छापा मारा जाता है अथवा कार्रवाई की जाती है, वहीं आसपास के लोगों को ही बनाया जाता है। कई मामलों में अलग- बगल के लोगों को गवाह न बनाए जाने पर मामला कोर्ट में नहीं टिका है।

मलिक ने कहा कि फ्लेचर पटेल ने एक लेडीज डान का भी उल्लेख किया है। वह लेडीज डान यासमिन वानखेडे वकील होने के साथ ही महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना की फिल्म प्रकोष्ठ की पदाधिकारी भी है। समीर वानखेडे इन्हीं माध्यमों से फिल्म जगत के लोगों से अवैध वसीली करते हैं और जहां रंगदारी नहीं मिलती है, वहां कुछ ग्राम ड्रग्स रखकर छापामार कार्रवाई करते हैं।

Next Story
Share it