Action India
राजस्थान

गहलोत सरकार की महिला मंत्री के बयान पर भाजपा का पलटवार

गहलोत सरकार की महिला मंत्री के बयान पर भाजपा का पलटवार
X

जयपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय मंत्री डॉ. अलका गुर्जर ने अलवर में नाबालिग मूक बधिर बालिका के साथ हुई बलात्कार की घटना के बाद राजस्थान सरकार की महिला मंत्री ममता भूपेश के बयान पर नाराज़गी जाहिर की है। डॉ. गुर्जर ने कहा कि महिला मंत्री का नाजायज वक्तव्य कांग्रेस के काले चरित्र का ही परिचायक है।

डॉ. गुर्जर ने कहा कि महिला मंत्री को यह आत्मावलोकन करना चाहिए कि जनता की सेवा और सुरक्षा करना ही शासन और प्रशासन का नैतिक दायित्व होता है और ऐसे घृणित अपराधों की रोकथाम के लिए उचित कदम उठाने की जगह केवल राजनीतिक फायदा लेने के लिए लीपापोती करना कहां तक उचित है?

डॉ. अलका गुर्जर ने कहा कि जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जो स्वयं ही गृहमंत्री भी है वो इस तरह की घिनौनी असामाजिक बयानबाजी करवाकर अपनी जिम्मेदारी से पलड़ा झाड़ने में लगे हैं, वहीं लड़की हूं लड़ सकती हूं कहकर उत्तर प्रदेश के उन्नाव में पहुंच जाने वाली प्रियंका गांधी रणथंभौर में जंगल दर्शन तो कर सकतीं हैं लेकिन बगल में ही स्थित अलवर नहीं जा सकती, पीड़िता से मिलकर ढांढस नहीं बंधा सकती और अब उनकी महिमा मंत्री भी तिलक पर टीका टिप्पणी कर अपराधियों पर कार्रवाई करने की जगह असामाजिक कुकृत्य को धार्मिक अमलीजामा पहनाकर अलग दिशा में मोड़ने का दुस्साहस कर रही है।

डॉ. अलका गुर्जर ने कहा कि अब आम जनता ही यह जानना चाहेगी कि जब एसआईटी की रिपोर्ट आए बिना पुलिस द्वारा दुष्कर्म जैसी किसी भी घटना से इंकार कर इसे दुर्घटना बताया जाना राजस्थान सरकार की नीयत और नाकामी पर सवाल खड़े करता है।

उन्होंने कहा कि पहले तो गहलोत सरकार के मंत्री मुआवजा देकर फोटो खिंचाते हैं और फिर प्रियंका गांधी के जन्मदिन में खलल पड़ता देख दुष्कर्म जैसी घटना को दुर्घटना का रूप देते नजर आते हैं आखिर क्यों?

Next Story
Share it