Top
Action India

दो बिल्डर सहित जैम्स ज्‍वैलरी के बड़े कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग ने मारा छापा

दो बिल्डर सहित जैम्स ज्‍वैलरी के बड़े कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग ने मारा छापा
X

जयपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़

आयकर विभाग ने कोरोना काल के बाद बड़े पैमाने पर अघोषित आय उजागर होने की संभावनाओं के चलते मंगलवार को तीन कारोबारी समूहों के राजधानी जयपुर सिविल लाइन, अजमेर रोड, आमेर रोड, जल महल के सामने, ब्रह्मपुरी सहित अन्य 28 से ज्यादा ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की कार्रवाई की गई हैं। इस कार्रवाई में आयकर विभाग के 200 से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारियों की टीम अलग-अलग ठिकानों पर दस्तावेज जब्त कर जांच पडताल में जुटी है। आयकर विभाग के अधिकारियों के अनुसार इस छापेमारी में बड़े पैमाने पर अघोषित आय मिलने की संभावना जताई जा रही है।

आयकर विभाग के मुताबिक, दो बिल्डर गोकुल कृपा बिल्डर, चौरड़िया बिल्डर ग्रुप सहित जैम्स एंड ज्वैलरी का कारोबार करने वाले सिल्वर आर्ट पैलेस के मालिक नवरतन अग्रवाल के घर, दफ्तर, गोदामों और फैक्ट्रियों पर आयकर छापे मारे गए है। आयकर विभाग ने छापेमारी से पहले की गई स्क्रूटनी में इन सभी कारोबारी समूहों द्वारा बड़े पैमाने पर कालेधन से कारोबार करने के सबूत हाथ लगे थे। जिस पैमाने पर कारोबार किया जा रहा था । उस हिसाब से आयकर रिटर्न में अपनी आय नहीं दर्शायी थी। रियल एस्टेट कारोबारी समूह द्वारा बड़े पैमाने पर जमीनों में निवेश करने, रियल एस्टेट कारोबार में नकदी का कारोबार करने के दस्तावेज भी विभाग ने जुटाए हैं। इस आयकर विभाग की छापेमारी की कार्रवाई में 200 से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारियों की टीम लगी हुई है। तीनों समूहों के सभी 28 ठिकानों से दस्तावेजों को जब्त किया जा रहा है। 100 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों को भी इस कार्रवाई में साथ लिया गया है। आयकर विभाग के अफसर और कर्मचारी कारोबार में अवैध तरीके से किए गए निवेश, ब्लैक मनी सहित सभी दस्तावेजों को जुटा रहे हैं। राजधानी जयपुर में आयकर छापे की इस सबसे बड़ी कार्रवाई में बड़े पैमाने पर अघोषित आय उजागर होने की संभावना जताई जा रही है। फिलहाल जांच जारी है।


Next Story
Share it