Action India
राजस्थान

दीप पर्व पर राजस्थान का जर्रा-जर्रा रोशन, मां लक्ष्मी से मांगी खुशहाली

दीप पर्व पर राजस्थान का जर्रा-जर्रा रोशन, मां लक्ष्मी से मांगी खुशहाली
X

जयपुर। एक्शन इंडिया न्यूज़


धन और ऐश्वर्य का पर्व दिवाली गुरुवार को राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में उल्लास और उमंग के साथ मनाया गया। घर-आंगन दीपोत्सव की रोशनी से जगमगा उठे। आमजन ने मंत्रोच्चार के बीच शुभ मुर्हूत में महालक्ष्मीजी का पूजन किया। सुबह से देर शाम तक दिवाली की शुभकामनाओं का दौर चला। सोशल मीडिया पर भी दिवाली की बधाइयों के मैसेज, वीडियो चलते रहे। शुक्रवार को महिलाएं घरों और मंदिरों के बाहर गोवद्र्धन पूजा करेंगी।

राजधानी जयपुर में शहरवासियों ने विधि-विधान से धन और ऐश्वर्य की देवी महालक्ष्मी का पूजन किया। महिलाओं-बालिकाओं और युवतियों ने घरों में पारम्परिक मांडणे, अल्पना और रंगोली सजाई। गन्ना, लक्ष्मी पाना, खील-फूले, बताशे, कमल के पुष्प, लौंग, इलायची, हरे मूंग, सुगंधित इत्र, अबीर, सीताफल और अन्य सामग्री के साथ घरों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों में महालक्ष्मी, गणेश और विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की गई।

मिठाई-पकवान से महके घर

दिवाली की तैयारियां दो-तीन दिन से पहले शुरू हो गई। गुरुवार को महालक्ष्मी पूजन पर घरों, मंदिरों में पकवान बनाए। गुंझिए, नारियल और बेसन की चक्की, लड्डू, लापसी-चावल, मठरी, मिठाई और अन्य पकवान बनाए गए। इसके अलावा मठरी, नमकीन, चिवड़ा और अन्य सामग्री भी बनाई गई।

  • दो घंटे से ज्यादा चले पटाखे

दिवाली पर गलियों-मोहल्लों में लोगों ने सुबह से पटाखे चलाने शुरू कर दिए। शाम को महालक्ष्मी के पूजन के बाद लोगों ने फुलझड़ी, अनार और अन्य पटाखे चलाए। हालांकि सरकार ने रात्रि 8 से 10 बजे तक पटाखे चलाने की अनुमति दी थी। लेकिन गाइडलाइंस का उल्लंघन होता रहा।

रंगबिरंगी लाइटों से जगमगाए शहर व गांव

दीपक और रंगबिरंगी रोशनी से समूचे शहर व गांव जगमगाते नजर आए। गांवों व शहरों के सार्वजनिक स्थानों पर रंग-बिरंगी लाइटें लगाई गई। कई दुकानदारों ने व्यक्तिगत स्तर पर सजावट की। कोरोना के बाद पहली दिवाली को लेकर आमजन ने घरों पर भी रोशनी कर दिवाली की खुशियां बांटी।

  • रोशनी देखने निकले शहरवासी

लक्ष्मी पूजन के बाद शहरवासी रोशनी देखने के लिए बाजारों में निकले। कई स्थानों पर खड़े होकर लोगों ने सेल्फी लेने के साथ-साथ वीडियो बनाए। दिवाली पर बाजारों में देर शाम तक रौनक रही। निकायों की ओर से तथा दुकानदारों की ओर से की गई रोशनी के कारण शहर जगमगाते रहे।

  • बाजारों में हुई खरीद-फरोख्त

दिवाली पर लोगों ने मिठाइयां, वाहन, इलेक्ट्रिॉनिक आइटम, रेडिमेड कपड़े, साडिय़ां, क्रॉकरी और अन्य सामान खरीदे। खरीददारों के कारण बाजारों में चहल-पहल रही। व्यापारी भी अच्छी ग्राहकी से खुश दिखाई दिए।

Next Story
Share it