Action India

हरियाणा दैनिक और रियायती यात्रियों के लिए जारी होगा एनसीएम कार्ड

हरियाणा दैनिक और रियायती यात्रियों के लिए जारी होगा एनसीएम कार्ड
X
  • सरकार के पास होगा बस में सफर करने वाले प्रत्येक यात्री का डाटा
  • यात्रियों की संख्या के आधार पर तय होंगे बसों के रूट

चंडीगढ़। एक्शन इंडिया न्यूज़

हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि ई-टिकटिंग शुरू होने से रोडवेज बसों में फ्री पास और रियायती कोटे के तहत यात्रा करने वाली सवारियों को एक नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) जारी किया जाएगा। इस कार्ड को जैसे ही कंडक्टर अपने ई-टिकटिंग कियोस्क पर स्कैन करेगा, उस यात्री की यात्रा से संबंधित डाटा कंट्रोल रूम में आ जाएगा। इससे विभाग को यह जानकारी रहेगी कि फ्री पास और रियायती कोटे के तहत कितने यात्रियों ने यात्रा की है।

मंगलवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में परिवहन मंत्री ने बताया कि ई-टिकटिंग के माध्यम से सभी 24 डिपो कवर किए जाएंगे। मूलचंद शर्मा ने बताया कि रूटीन में यात्रा करने वाले यात्रियों को भी एनसीएमसी कार्ड जारी किया जाएगा। इससे वे यात्री उस कार्ड में पहले से रिचार्ज करा सकते हैं और यात्रा के दौरान महज कार्ड को स्कैन करने से उनकी यात्रा का किराया कट जाएगा। इससे वे कैशलैश सुविधा से ई-टिकटिंग का लाभ ले सकते हैं। मंत्री ने कहा कि इसके अतिरिक्त जिस यात्रियों के पास कार्ड नहीं है वह कैश देकर भी ई-टिकटिंग मशीन से टिकट ले सकेंगे।

परिवहन मंत्री ने बताया कि ई-टिकटिंग की सुविधा से यात्रियों की संख्या का डाटा विभाग के पास रहेगा। इससे जिस रूट पर ज्यादा सवारियां यात्रा कर रही हैं, उस रूट पर ज्यादा बसों की शैड्यूलिंग की जा सकती है। मंत्री ने बताया कि इस योजना के शुरू होने से विभाग में रिवेन्यू लीकेज भी कम होगी। कई बार टिकटों के रि-इश्यू करने व नकली टिकटों के मामले सामने आते हैं। ई-टिकटिंग मशीन से जारी टिकट को न तो रि-इश्यू किया जा सकता है और न ही उसका नकली टिकट काटा जा सकता है।

Next Story
Share it