Action India

खाली स्टेडियम में मैच खेलने से खेलों में प्रतिस्पर्धा कम नहीं होगी: बेन स्टोक्स

खाली स्टेडियम में मैच खेलने से खेलों में प्रतिस्पर्धा कम नहीं होगी: बेन स्टोक्स
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

इंग्लैंड के हरफनमौला ऑलराउंडर बेन स्टोक्स का कहना है कि बंद स्टेडियमों में खेलने से मैचों के प्रतिस्पर्धात्मक पक्ष में कोई कमी नहीं आएगी। स्टोक्स से जब यह पूछा गया कि क्या खाली स्टेडियम में खेलने से क्रिकेट की प्रतिस्पर्धा पर फर्क पड़ेगा, तो उन्होंने कहा कि प्रशंसकों के बिना भी खिलाड़ी मैदान पर जीतने के लिए ही उतरेंगे। उन्होंने बीबीसी रेडियो 5 से बातचीत में कहा, 'इसके बारे में सोचिए, हम अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए बाहर जा रहे हैं। हमें अपने सीने पर तीन शेर मिले और एक खेल है जिसे हम जीतना चाहते हैं।' उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि खाली मैदानों में मैच खेलने से मैच के प्रतिस्पर्धी पक्ष पर कुछ असर पड़ेगा।

यह एकदम अलग परिदृश्य होगा कि अब वह माहौल और शोर नहीं होगा जिसे हम खेलते वक्त मैच में उपयोग करते हैं।'स्टोक्स ने आगे बातचीत करते हुए कहा, 'हम टीवी पर क्रिकेट को लाने और लोगों को इसे देखने के लिए कुछ भी करेंगे। अगर इसका मतलब यह है कि आपको खाली स्टेडियम में खेलना है तो ऐसा ही हो।'इंग्लैंड की विश्व कप जीत में मुख्य भूमिका निभाने वाले इस खिलाड़ी ने कहा कि वे 100 प्रतिशत निश्चित नहीं है कि खेल फिर दोबारा कब शुरू होगा।

उन्होंने कहा कि खेल से ज्यादा खिलाड़ियों, अधिकारियों, कर्मचारियों और प्रशंसकों की सुरक्षा की देखरेख जरूरी है। बता दें, कोरोना वायरस महामारी के चलते दुनिया भर में सभी खेल गतिविधियां रुक गई हैं। खेल जगत की प्रतियोगिताओं को फिर से खाली स्टेडियम में शुरू करने की बात की जा रही है और इन्हें दोबारा शुरू करने का यह इकलौता रास्ता दिख रहा है। चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस के चलते विश्व में 2.5 लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गवाई है, वहीं इससे संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़ कर 35 लाख से ज्यादा हो गया है।

Next Story
Share it