Action India
Uncategorized

उप्र कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी दुर्भावना से ग्रसित, जारी रहेगा संघर्ष : प्रियंका गांधी

उप्र कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी दुर्भावना से ग्रसित, जारी रहेगा संघर्ष : प्रियंका गांधी
X

नई दिल्ली । एएनएन (Action News Network)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने उप्र कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी को दुर्भावना और राजनीतिक विद्वेश का परिणाम बताते हुए कहा कि जब तक अपने नेता को रिहा नहीं करा लेते प्रदेश कांग्रेस का संघर्ष जारी रहेगा। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता किसी भी कार्रवाई से डरने वाले नहीं हैं।

प्रियंका गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, ‘उप्र कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने संघर्षशील श्रमिक जीवन बिताकर राजनीतिक मुकाम हासिल किया है। बीते 19 मई को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने जिस दुर्भावना के साथ उन्हें जेल में डाला है, वो साफ दर्शाता है कि विपक्ष के सकारात्मक सेवाभाव को उप्र सरकार द्वारा ठुकराया और दबाया जा रहा है।’

प्रदेश सरकार के विद्वेशपूर्ण कार्रवाई के खिलाफ संघर्ष का ऐलान करते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा कि योगी सरकार के दबाव के आगे अजय कुमार लल्लू नहीं झुकेंगे और कांग्रेस पार्टी का काम नहीं रुकेगा। जब तक उन्हें न्याय नहीं मिलेगा तब तक उत्तर प्रदेश कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता उनके लिए आवाज उठाएगा और संघर्ष जारी रखेगा।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से अभिनेता सोनू सूद के मामले पर ट्वीट कर योगी सरकार पर तंज कसा है। प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा, ‘शुक्र मनाइए कि सोनू सूद जी महाराष्ट्र में नेक काम कर उत्तर प्रदेश के हजारों लोगों की मदद कर रहे हैं। उप्र में होते तो राज्य सरकार पहले बसों को स्कूटर बोलती, फिर उनकी फिटनेस का अड़ंगा अटकाती और फिर सोनू सूद को जेल में डाल देती। योगी सरकार नेक कार्य/ सेवा कार्य करने पर जेल भेजती है।’

उल्लेखनीय है कि बस विवाद के दौरान उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विवेक बंसल को आगरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। उनके ऊपर थाना फतेहपुर सीकरी में धारा-188 और 269 के अलावा महामारी एक्ट का मुकदमा कायम किया गया था। इसके बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को जेल भेज दिया गया था।

Next Story
Share it