Action India
अन्य राज्य

पूर्णबंदी में देवरिया रेलवे को 17.5 करोड़ रुपये का नुकसान- मंडल वाणिज्य निरीक्षक

पूर्णबंदी में देवरिया रेलवे को 17.5 करोड़ रुपये का नुकसान- मंडल वाणिज्य निरीक्षक
X

देवरिया । एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए देशव्यापी पूर्णबंदी (लॉकडाउन) लागू है। इसके चलते उत्तर प्रदेश के देवरिया रेलवे को 17.5 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। मंडल वाणिज्य निरीक्षक राजाराम ने बताया कि इस पूर्णबंदी के कारण रेलवे को 17.5 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है । जनपद में छोटे-बड़े 12 रेलवे स्टेशन हैं। इसमें से देवरिया सदर और भटनी रेलवे स्टेशन अन्य रेलवे स्टेशनों से बड़े हैं। इन स्टेशनों से प्रतिदिन लगभग सौ ट्रेनों का आवागमन होता था। 15 हजार यात्री प्रतिदिन ट्रेनों से यात्रा करते थे। इसके साथ ही गौरीबाजार, बैतालपुर, नूनखार, भाटपाररानी, बनकटा, सलेमपुर, लाररोड, बरहज समेत अन्य छोटे स्टेशन और हार्ट हैं, जहां लाखों रुपये का आय प्रतिदिन होता हैं।

राजाराम ने बताया कि देवरिया सदर रेलवे स्टेशन से होकर 84 ट्रेंने गुजरती हैं, जिससे नौ हजार यात्री यात्रा करते हैं। स्टेशन की प्रतिदिन की 20 लाख की आय होती हैं। वहीं भटनी रेलवे स्टेशन से प्रतिदिन 16 ट्रेनें भटनी, सलेमपुर और मऊ होकर जाती हैं। इसके अलावा 90 ट्रेनें भटनी से होकर गुजरती हैं, जहां प्रतिदिन 32 सौ यात्री आते-जाते हैं। स्टेशन की प्रतिदिन की आय पांच लाख रुपये हैं। देवरिया जिले में प्रतिदिन 15 हजार यात्रियों का आवागमन होता हैं, जिससे रेलवे को प्रतिदिन 35 लाख रुपये की आय होती थी। वहीं गर्मी और लग्न के समय यात्रियों की संख्या में लम्बी वृद्धि हो जाती है, जिससे आय 20 प्रतिशत बढ़ जाता था।

मंडल वाण्ज्यि निरीक्षक ने बताया कि पूर्णबंदी में 23 मार्च से ट्रेनों का संचालन बंद हुआ था। सदर रेलवे स्टेशन पर 24 मार्च की रात में अवध असाम एक्सप्रेस ट्रेन देवरिया पहुंची थी। इसके बाद कोई यात्री ट्रेन नहीं चली, जिससे प्रतिदिन जिले में रेलवे को 35 लाख का घाटा होने लगा। पिछले 50 दिनों में रेलवे के नहीं चलने से लगभग सात लाख यात्रियों ने यात्रा नहीं की है, जिससे रेलवे को तकरीबन 17.5 करोड़ रुपये का घाटा हुआ हैं।

Next Story
Share it