Top
Action India

हिमाचल प्रदेश में दूसरे दिन भी बारिश और ओलावृष्टि, फसलों को नुकसान

शिमला । एएनएन (Action News Network)

हिमाचल प्रदेश में रविवार को लगातार दूसरे दिन बारिश और ओलावृष्टि का दौर जारी रहा। बाद दोपहर राजधानी शिमला में तेज गर्जना के साथ वर्षा हुई। अप्पर शिमला सहित मध्यम उंचाई के अधिकांश क्षेत्रों में भी ओलाबारी हुई। मैदानी क्षेत्रों हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना व कांगड़ा में सुबह के समय झमाझम बरसात हुई।

राज्य के विभिन्न इलाकों में पिछले एक हफ्ते से बरसात व ओलावृष्टि हो रही है। मौसम के तेवरों ने किसानों-बागवानों को परेशानी में डाल दिया हे। बारिश-ओलावृष्टि से गेहूं, आम, सेब, मटर इत्यादि फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में राज्य के मैदानी व मध्यम उंचाई वाले इलाकों में अंधड़ व भारी ओलावृष्टि की चेतावनी दी है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि 10 जिलों हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना, मंडी, कांगड़ा, शिमला, सोलन, सिरमौर, कुल्लू और चंबा जिलों में अंधड़ व ओलावृष्टि को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफतार से तुफान चलने की आशंका है।

उन्होंने कहा कि मैदानी भागों में 28 अप्रैल तथा पर्वतीय इलाकों में 29 अप्रैल तक मौसम खराब बना रहेगा। 30 अप्रैल व एक मई को मौसम के साफ रहने का अनुमान है, लेकिन 2 मई को अनेक क्षेत्रों में फिर बारिश का दौर शुरू हो सकता है।उन्होंने कहा कि बीते 24 घंटों के दौरान गोहर में सर्वाधिक 62 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। भुंतर में 18, शिमला में 17, सोलन में 16, मशोबरा में 14, धर्मपुर में 13, बंजार व मंडी में 12, तिंडर व रोहड़ू में 11, जोगेंद्रनगर, जंजैहली व कसौली में 10 मिमी बारिश हुई है।

लाहौल-स्पीति का केलंग सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान 4.9 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड किया गया। इसके अलावा कल्पा में न्यूनतम तापमान 6.6, कुफरी में 7.4, मनाली में 9.4, शिमला व डल्हौजी में 10.7, सोलन में 12, धर्मशाला में 12.4, पालमपुर में 14, भुंतर में 14.2, चंबा में 14.6, संुदरनगर में 15, बिलासपुर में 15.3, हमीरपुर में 16, मंडी में 17.2, नाहन में 17.9, कांगड़ा में 18.4 और उना में 18.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

Next Story
Share it