Action India
अन्य राज्य

प्रतापगढ़ में राशनकार्ड धारकों को चावल के साथ पहली बार मिला मुफ्त चना

प्रतापगढ़ में राशनकार्ड धारकों को चावल के साथ पहली बार मिला मुफ्त चना
X

प्रतापगढ़ । एएनएन (Action News Network)

प्रतापगढ़ जिले में पहली बार चावल के साथ एक किलो चना प्रति राशन कार्ड धारक को मुफ्त दिया गया। पहली बार राशन की दुकान से चना पाकर लोगों में खुशी देखी गई। लोगों ने केंद्र और प्रदेश सरकार की तारीफ करते हुए देखे गए। कोरोना वायरस के बाद पूरे देश में केंद्र सरकार के निर्देश पर 3 महीने तक महीने में दो बार राशन की दुकानों से राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है। वितरण एक से 12 तारीख के बीच में होता है जो पूर्व की भांति चला रहा है और दूसरी बार 15 से 25 तारीख के बीच में अप्रैल मई-जून तीन महीने तक पांच किलो चावल प्रति राशनकार्ड प्रति यूनिट पर कॉल धारकों को फ्री दिया जा रहा है वही पहली बार जनपद में प्रति राशनकार्ड एक किलो चना कार्ड धारकों को चावल के साथ दिया गया।

कुछ लोगों का कहना है कि दाल की उपलब्धता ना होने के कारण चना दिया गया है, फिलहाल लोग चना पाकर खूब नजर आ रहे हैं और केंद्र के साथ प्रदेश सरकार की सराहना कर रहे हैं।
जिला पूर्ति अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि जिले के 5.80 लाख परिवारों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों से मुफ्त चावल और चने का वितरण सफलता पूर्वक किया गया। जो राशन नहीं पाए वे लोग अपने कोटेदार से राशन प्राप्त कर सकते हैं।

अगर कोटेदार राशन देने में आनाकानी और कम देता है, तो इसकी शिकायत तहसीलों में बने कंट्रोलरूम में करें। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जिले के लोगों को पहली बार प्रति कार्ड एक-एक किग्रा चना दिया जाएगा। चावल का वितरण अप्रैल माह की तरह प्रति यूनिट पांच किग्रा दिया गया। 15 मई से 25 तारीख तक चलने वाले वितरण में सभी अन्त्योदय व पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों को प्रति यूनिट पांच किलो चावल व प्रति कार्ड एक किलो चना दिया जा रहा है। गेहूं, चावल के वितरण में अंत्योदय, जाबकार्डधारक और पंजीकृत श्रमिकों को मुफ्त में राशन मिल रहा है।

गृहस्थी के लाभार्थियों को दो रुपये किग्रा गेहूं और तीन रुपये किग्रा की दर से चावल का वितरण किया जा रहा है। अप्रैल के साथ मई और जून माह में भी राशन का वितरण दो बार किया जाएगा। एक मई से वितरित होने वाले राशन में अंत्योदय, जाबकार्डधारक और पंजीकृत श्रमिकों को मुफ्त में गेहूं, चावल मुफ्त मिलेगा। जबकि पात्र गृहस्थी के लाभार्थियों को दो रुपये प्रति किग्रा गेहूं और तीन रुपये प्रति किग्रा की दर से चावल दिया जा रहा है। पहले चरण में राशन वितरित करने की समय सीमा एक से बारह मई निर्धारित की गई है, जबकि दूसरे चरण में 15-25 मई तक राशन का वितरण किया जाता है। दूसरे चरण में प्रति यूनिट पांच किग्रा चावल और एक किग्रा चना मुफ्त दिया गया है।

Next Story
Share it