Action India
खाना-खजाना

मॉडर्न किचन बन रहा है कैंसर का कारण जानिए कैसे खत्म करें इस बीमारी की टेंशन

मॉडर्न किचन बन रहा है कैंसर का कारण जानिए कैसे खत्म करें इस बीमारी की टेंशन
X

एक्शन इंडिया न्यूज़


नई सोच और सुविधा के नाम पर हम कई चीजें किचन में इकट्ठा कर लेते हैं। लेकिन उनसे सेहत पर पड़ने वाले बुरे असर के बारे में नहीं सोचते। जानिए स्वामी रामदेव से कैसे पाएं इन समस्याओं से छुटकारा।

आपको दादी-नानी के जमाने वाली रसोई याद है। लोहे की कढ़ाई, पीतल के भगौने, तांबे के जग-गिलास, स्टील के बर्तन, मसाला पीसने के लिए सिलबट्टा, कुछ भी कूटने के लिए लकड़ी-लोहे के इमाददस्ता की सफाई से लेकर उनके इस्तेमाल तक कितनी मेहनत करनी पड़ती थी।

आज के मॉड्यूलर किचन की तरह दादी-नानी की रसोई एट्रेक्टिव तो नहीं थी। उतनी यूजर फ्रेंडली भी नहीं थी। लेकिन वो बर्तन गुणों की खान थे। उनमें सेहत का खजाना छुपा था जबकि मॉर्डन किचन खतरे का घर बनता जा रहा है।


बदलते मौसम में ड्राई स्किन और ड्रैंडफ करे परेशान, स्वामी रामदेव से जानिए सिर से पैर तक कैसे करें कायाकल्प

नई सोच और सुविधा के नाम पर हम कई चीजें किचन में इकट्ठा कर लेते हैं। लेकिन उनसे सेहत पर पड़ने वाले बुरे असर के बारे में नहीं सोचते। अब नॉन स्टिक कुकवेयर, प्लास्टिक कंटेनर्स, एल्युमीनियम फॉयल, एल्युमीनियम के बर्तन को ही ले लीजिए जो हर रसोई में नजर आते हैं।

इटली में एल्युमीनियम फॉयल पर हुए एक रिसर्च में पता चला है कि जब भी एल्युमीनियम फॉयल में खाना पैक या गर्म किया जाता है तो 2 से 6 मिलीग्राम मात्रा खाने में पहुंच जाती है.। जो लंबे समय में कैंसर, अल्जाइमर और इंफर्टिलिटी की वजह बनता है।

डेंगू से रिकवरी के बाद परेशान कर सकते हैं ये 5 साइड इफेक्ट्स, इन बातों को ध्यान में रखकर करें बचाव

नॉनस्टिक कुकवेयर भी कम हानिकारक नहीं है। ये टेफ्लॉन कोटेड होते हैं। कोटिंग हट जाने पर भी जब बर्तन इस्तेमाल होते रहते हैं तो वो लिवर कैंसर की वजह बन सकते हैं।

किचन में रंग-बिरंगे प्लास्टिक कंटेनर्स का इस्तेमाल सबसे ज्यादा होता है, जिनसे बॉडी में कई तरह के ऐसे केमिकल चले जाते हैं और हार्मोनल इम्बैलेंस और बीमारियों की वजह बनते हैं।

ऐसे में जरूरी है कि कैंसर देने वाली इन चीजों को किचन से बाहर करें और इनके हेल्दी वैकल्पिक किचन में शामिल करें, साथ में 30 मिनट रोज योग करें जो हमेशा सेहतमंद रखे। और लाइफ में कैंसर की एंट्री पर कैसे ब्रेक लगेगा। जानिए इस बारे में स्वामी रामदेव से।

Next Story
Share it