Top
Action India

पराली में आग लगाने की सूचना देने पर मिलेगा एक हजार का इनाम

पराली में आग लगाने की सूचना देने पर मिलेगा एक हजार का इनाम
X

अब तक पराली में आग लगाने के 4300 मामले आ चुके हैं सामने, 218 किसानों पर केस दर्ज

चंडीगढ़। एएनएन

हरियाणा में धान के अवशेष जलाने से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की आबोहवा जहरीली हो रही है। प्रदेश सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद पराली में आग लगाने का सिलसिला नहीं थम रहा है। इस मामले पर एनजीटी भी कई बार सरकार को फटकार लगा चुका है, परंतु सिलसिला बदस्तूर जारी है। सरकार ने अब पराली में आग लगाने की सूचना देने वालों को 1000 रुपये इनाम देने की घोषणा की है।

उल्लेखनीय है कि प्रदूषण को रोकने व धान के अवशेष न जलाने वाले किसानों को सरकार की ओर से 50 प्रतिशत सबसिडी (अनुदान राशि) देने के फैसला लिया गया है। साथ ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल कई बार किसानों से पराली न जलाने की अपील कर चुके हैं, लेकिन हर साल इन मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। अभी तक 218 किसानों पर केस दर्ज हो चुका है तो करीब 4300 आग लगाने के मामले सामने आ चुके हैं।

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग भी धान के अवशेषों का प्रबंधन करने में जुटा हुआ है। सरकार का दावा है कि इस बार धान के अवशेषों में आग लगाने के मामलों में 6.5 फीसद कमी हुई है। वर्ष 2018 में आग लगाने का आंकड़ा करीब 4600 था। जबकि पड़ोसी राज्य पंजाब में स्थिति इससे भी बदतर है। पराली में आग लगाने के 23150 मामले अब तक आ चुके हैं।

फिलहाल, राष्ट्रीय राजधानी तथा प्रदेश के प्रदूषित हो रही आबोहवा को स्वच्छ रखने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक बार फिर से किसानों से पराली न जलाने की अपील की है।

Next Story
Share it