Top
Action India

हाईकोर्ट के आदेश पर 15 मार्च तक सरकारी जमीन पर बने मंदिर हटाने की कवायद तेज

हाईकोर्ट के आदेश पर 15 मार्च तक सरकारी जमीन पर बने मंदिर हटाने की कवायद तेज
X

ऋषिकेश। एएनएन (Action News Network)

उत्तराखंड हाईकोर्ट के आदेश पर जिला की टास्क फोर्स ने धर्म स्थलों की आड़ में किए गए अतिक्रमण को 15 मार्च तक हटावाने की कवायद तेज कर दी है। प्रशासन ने 13 मंदिरों को चिन्हित किया है।शनिवार को नगर निगम के सभागार में उप जिलाधिकारी प्रेमलाल की अध्यक्षता व नगर निगम के मुख्य आयुक्त नरेंद्र सिंह क्विरियाल के संचालन में आयोजित बैठक में दौरान मंदिरोंं की आड़ में किए गए कब्जों को लेकर तत्काल कार्रवाई करने के लिये संबंधित विभागों को निर्देशित किया।

यह कार्रवाई आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गुप्ता की ऋषिकेश क्षेत्र में सरकारी भूमि पर अवैध रूप से बने मंदिरों को हटाने के हाईकोर्ट में दायर याचिका में कोर्ट के आदेश के बाद की जा रही है। बैठक में बताया गया, कि ऋषिकेश क्षेत्र में सरकारी भूमि पर कुल 13 मंदिर बनाए गए हैं, जिसमें पुराना बद्रीनाथ मार्ग पर साईं मंदिर, हरिद्वार मार्ग पर हनुमान मंदिर ,हीरालाल मार्ग, पर शिव मंदिर लक्ष्मण झूला मार्ग पर भैरव मंदिर ,खड़ा महादेव मंदिर , होशियारी देवी मंदिर, हरिद्वार मार्ग पर पूर्ण डेयरी के सामने शिव मंदिर सहित कुल 13 मंदिरों को पूर्व में ही चयनित किया जा चुका है।

इस दौरान मंदिरों के संचालकों के साथ भी अधिकारियों ने बैठक की। बैठक में तहसीलदार रेखा आर्य अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी विपुल कुमार सैनी डोईवाला, ओपी सिंह, सचिन रावत सफाई निरीक्षक संतोष गोसाई, एनएच श्रीनगर मृत्युंजय मिश्रा, बैठक में साईं मंदिर के अध्यक्ष अशोक थापा ओमप्रकाश मुल्तानी वेद प्रकाश धींंगड़ा के अतिरिक्त अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Next Story
Share it