Top
Action India

रोहा टोल गेट को खोलने के लिए पूजा-पाठ शुरू

रोहा टोल गेट को खोलने के लिए पूजा-पाठ शुरू
X

नगांव। एएनएन (Action News Network)

लंबी जद्दो-जहद के बाद रविवार से नगांव जिला रोहा में राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थापित टोल गेट को खोलने के लिए सुबह से ही पूजा-पाठ आरंभ हो गया है। वहीं इस गेट को खोले जाने के लेकर विभिन्न दल और संगठन विरोध कर रहे हैं। इस कड़ी में असम जातीयवादी युवा छात्र परिषद और कृषक मुक्ति संग्राम समिति इसका विरोध करने की रणनीति बना चुके हैं।

सूत्रों ने बताया है कि शुरुआती चरण में पहले व्यावसायिक वाहनों से टोल वसूला जाएगा। बाद में धीरे-धीरे अन्य सभी तरह के वाहनों से टोल लिया जाएगा। वहीं दल और संगठनों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने पूरी तरह से कमर कस लिया है। टोल गेट के पास किसी को भी धरना प्रदर्शन या एक साथ लोगों को जुटने की मनाही है। टोल गोट के आसपास काफी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है।

उल्लेखनीय है रोहा टोल गेट से फीस वसूलने की जिम्मेदारी असम की काइनेटिक नामक एक कंपनी को दी गई है। वहीं अजायुछाप ने भी टोल खोले जाने के विरोध में आंदोलन चलाने की चेतावनी दी है। माना जा रहा है कि इलाके में हालात तनावपूर्ण हो सकते हैं।

नेशनल हाइवे अथारिटी आफ इंडिया (एनएचएआई) की ओर से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार चार चक्का वाहनों को एक ओर से 95 रुपये तथा दोनों ओर से 140 रुपये, व्यावसायिक वाहनों को एक ओर से 150 और दोनों ओर से 225 रुपये तथा बस और ट्रक को एक ओर से जोने पर 315 रुपये इस टोल गेट से गुजरने पर चुकाने होंगे। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय राजमार्ग-37 और 31 पर वर्ष 2015 और 2018 में टोल गेट खोला गया था। लेकिन अजायुछाप और केएमएसएस के भारी विरोध के चलते दोनों राजमार्गों पर टोल गेट को बंद करना पड़ा था।

Next Story
Share it