Top
Action India

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 80 हजार भोजन पैकेट वितरित

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 80 हजार भोजन पैकेट वितरित
X

  • सतत रूप से चल भोजन पैकेटों का वितरण

जयपुर। एएनएन (Action News Network)

कोरोना संक्रमण के इस दौर में प्रतापगढ़ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जरूरतमंद और असहाय लोगों की सेवा में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। निस्वार्थ भाव से समाज सेवा करने वाले स्वयंसेवकों की लंबी फौज के सहारे पूरे जिले में सेवा कार्य किए जा रहे हैं। समाज के सहयोग से चल रहे इन सेवा कार्यों में भोजन पैकेट, राशन किट, सेनेटाइजर, साबुन, मास्क, चप्पल समेत कई तरह की सामग्री वितरित की जा रही है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह जिला कार्यवाह प्रहलाद सिंह ने बताया कि कोरोना की इस जंग में जिले के स्वयंसेवक पूरी तरह प्रशासन का सहयोग कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के दिशा- निर्देशों की भी पूरी पालना कर रहे हैं। संकट के इस दौर में जिले में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहे जरूरतमंदों तक हर वह सामग्री पहुंचे जिनकी उन्हें आवश्यकता है। इसके लिए निस्वार्थ भाव से संघ के स्वयंसेवक पिछले 15 दिनों से जुटे हुए हैं। पूरे जिले में जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाना हो, उन्हें चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध करवाना हो, उन्हें एक से दूसरे स्थान पर पहुंचाना हो किसी भी कार्य में स्वयंसेवक पीछे नहीं है।

प्रहलाद सिंह ने बताया कि पूरे जिले में अभी तक संघ के स्वयंसेवकों की ओर से 80 हजार से ज्यादा भोजन पैकेट वितरित किए जा चुके हैं। लगभग एक हजार परिवारों को राशन किट का वितरण किया गया है। जनजाति क्षेत्र में संचालित इस सेवा कार्य के तहत सुदूर ग्रामीण अंचलों में पहुंचकर स्वयंसेवक सेनेटाइजर और मास्क का भी वितरण कर रहे हैं। जनजातीय इलाकों में कोरोना वायरस को लेकर लोगों को इस संक्रमण से बचाव की जानकारी भी दी जा रही है। संघ की ओर से संचालित यह सभी सेवा कार्य समाज के सहयोग से चल रहे हैं। शहर ही नहीं ग्रामीण इलाकों के भामाशाह दी मुक्त हस्त से इन कार्यों में अपना सहयोग दे रहे हैं।

इस काम में विश्व हिंदू परिषद, हिंदू जागरण मंच, विद्यार्थी परिषद, सेवा भारती, विद्या भारती, बजरंग दल आदि संगठनों के कार्यकर्ता दिन रात जुटे हुए हैं। सेवा भावना के साथ किए जा रहे हैं इन कार्यों में संगठन ने मुक पशु पक्षियों की भी चिंता की है इनके चारों और दाने पानी की व्यवस्था के लिए भी अलग से प्रयास किए गए हैं। गौ माता को हरा चारा खिलाने का काम हो या पक्षियों के लिए चुग्गे की व्यवस्था, मछलियों के लिए आटा, मनुष्य तो ठीक कोई पशु पक्षी भी भूखा नहीं रहे यह सतत प्रयास किया जा रहा है। अभी तक 30 हजार गोवंश के लिए चारा, पक्षियों के लिए 16 क्विंटल चुग्गा, मछलियों के लिए 10 क्विंटल आटा वितरित किया जा चुका है। लोगों की सहयोग भावना देखते हुए यह मात्रा दिनों दिन बढ़ती जा रही है।

लॉक डाउन के कारण जो दिहाड़ी मजदूरों की आजीविका पर संकट खड़ा हो गया, ऐसे परिवारों का जिम्मा संघ के कार्यकर्ताओं ने उठाया है। जिले का धरियावद, पीपलखूंट, अरनोद, छोटी सादड़ी या फिर प्रतापगढ़ सभी जगह यह कार्य जारी है। जिला मुख्यालय स्थित संघ कार्यालय से रोजाना चार हजार भोजन पैकेट वितरित किए जा रहे हैं। सुबह 5 बजे से ही संघ के स्वयंसेवक तैयारियों में जुट जाते हैं। संघ द्वारा चलाए जा रहे इन सेवा कार्यों का प्रशासन, जनप्रतिनिधि, समाजसेवी और दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राजनीतिक दल, बोहरा समुदाय के लोग भी सहयोग कर रहे हैं। संघ संकट की घड़ी में प्राणी मात्र की रक्षा के लिए कृत संकल्पित हैं।

Next Story
Share it