Action India
झारखंड

सहरी, तरावीह और इफ्तार, करें सोशल डिस्टेंस के साथ : एसपी

सहरी, तरावीह और इफ्तार, करें सोशल डिस्टेंस के साथ : एसपी
X

  • रमजान पर्व को लेकर डीसी और एसपी ने जारी किया संदेश

  • जिला वासियों को दी मुबारकबाद

रामगढ़ । एएनएन (Action News Network)

25 अप्रैल से शुरू होने वाले रमजान महापर्व को लेकर जिला प्रशासन अभी से ही हाई अलर्ट पर है। गुरुवार को एसपी प्रभात कुमार ने एक वीडियो संदेश जारी किया है। सबसे पहले एसपी ने जिला वासियों को रमजान की मुबारकबाद दी। इसके बाद उन्होंने कहा है कि सहरी, तरावीह और इफ्तार जैसे कार्यक्रम सोशल डिस्टेंस के साथ ही किए जाएंगे। अभी कोविड-19 को लेकर सभी धार्मिक स्थलों पर पांच व्यक्ति से अधिक लोगों के जमा होने पर पाबंदी है। इसलिए इस महान पर्व पर लोग अपने घरों में ही दुआ करेंगे।

एसपी ने अपने वीडियो संदेश में कहा है कि सहरी के लिए लोग दूसरे के घर में जाकर किसी को जगायेंगे नहीं। अपने घरों में ही नमाज पढ़ेंगे। तरावीह की नमाज के लिए भी मस्जिदों में इकट्ठा नहीं होंगे। किसी भी प्रकार से इफ्तार का दावत किसी को भी न दिया जाए। घर में भी इफ्तार के वक्त सोशल डिस्टेंस का पालन जरूर करें। उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण घर में भी लोगों को हो सकता है। इस वजह से सोशल डिस्टेंस का पालन हर जगह करना है।

जरूरी सामान के लिए सिर्फ एक सदस्य ही निकले

एसपी ने कहा है कि जरूरी सामान के लिए घर से सिर्फ एक सदस्य ही बाहर निकलें। राशन व अन्य जरूरी चीजें यथासंभव चार-पांच दिनों के लिए खरीद लें, ताकि रोज-रोज उन्हें घर से बाहर निकलना पड़े। उन्होंने कहा कि जरूरी सामान खरीदने के लिए दुकान पर सोशल डिस्टेंस का पालन करना बेहद जरूरी है। यह जरूर ध्यान रखें कि अगर दुकान पर ज्यादा लोग खड़े हैं, तो थोड़ी दूरी पर ही इंतजार कर लें। उनके निकल जाने के बाद अपना सामान खरीदें।

घर को ही बनाए इबादतगाह : डीसी

डीसी संदीप सिंह ने रमजान को लेकर संदेश जारी किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपना संदेश लिखते हुए कहा है कि रमजान पर अपने घर को ही इबादतगाह के रूप में तब्दील कर लें। इस रमजान सभी अपने घर पर ही इबादत करें। सामूहिक इबादत, इफ्तार न करें। सोशल डिस्टेंसिंग का अवश्य पालन करें। जिले में सभी मस्जिदों के प्रतिनिधियों, व मुस्लिम धार्मिक संस्थाओं के द्वारा घर में ही इबादत व इफ्तार की अपील की गई है। इसके साथ ही उन्होंने जिला वासियों को रमजान की मुबारकबाद दी है।

Next Story
Share it