Top
Action India

महाराष्ट्र में हुई संतों की हत्या, सीधे तौर में धर्म पर प्रहार : बालकदास महात्यागी

महाराष्ट्र में हुई संतों की हत्या, सीधे तौर में धर्म पर प्रहार : बालकदास महात्यागी
X

रायपुर । एएनएन (Action News Network)

बालोद के पाटेश्वरधाम के श्रीराम बालक दास महात्यागी ने गुरुवार को बयान जारी कर महाराष्ट्र के राज्यपाल से पालघर जिले में दो साधू सहित तीन लोगों की नृशंस सामूहिक हत्या की उच्चस्तरीय जांच की मांग करते हुए दोषि‍यों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि मुंबई कांदीवली के दो संत एवं उनका एक वाहन चालक अत्येष्टि कार्य में गुजरात गये हुए थे। वहां से लौटते समय पालघर जिले के डहाणू के आसपास ग्रामीणों ने उनको किसी संदेह में गाड़ी से उतारकर मार डाला। सबसे दु:खद घटना यह है कि उस स्थल पर पुलिस गश्ती दल के अनेक जवान देखने में आ रहे हैं। पुलिसवालों ने अपनी ओर से किसी प्रकार का बल प्रयोग अथवा उनकी रक्षा करने की चेष्टा नहीं की है।

शासन के अधीन ही व्यवस्था चलती है। महाराष्ट्र के गृहमंत्री, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को सीधा जबाव देना चाहिए कि ऐसी घटना क्यों हुई है। अन्य किसी धर्म विशेष व्यक्ति के साथ में यह घटना होती तो क्या सरकार, मानव अधिकार कार्यवादी चुप बैठते। उन्होंने कहा कि हम यह मानते हैं कि यह सीधे धर्म पर प्रहार है, इसके लिए शासन जबावदारी ले। आपके राज्य में ऐसी कोई घटना न हो इसके निर्देश राज्य के पुलिस अधिकारियों को देना चाह‍िए।

Next Story
Share it